राजस्थान के उदयपुर शहर में मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रिमोट का बटन दबाकर 15 हजार एक सौ करोड़ रुपए लागत के विकास कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया. खेल गांव में आयोजित इस कार्यक्र में पीएम मोदी ने कहा कि हम अलग मिट्टी के हैं हम में चुनौतियों से लड़ने और लड़ कर जीतने का दम है.

मोदी ने राजस्थान और प्रदेश में प्राकृतिक विपदा पर बोलते हुए कहा, बाढ़ से लोगों को जान गंवानी पड़ी, राजस्थान में भी संकट आया, राज्य सरकार ने भारत सरकार को अपना प्रतिवेदन भेजा है. प्रदेश के बाढ़ पीड़ितों के साथ भारत सरकार आपके साथ खड़ी रहेगी. इस संकट से उबरकर मिलजुलकर आगे बढ़ेंगे.

चाय बेचने वाले के पास भी आता है पैसा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उदयपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए सड़कों के विकास और पयर्टन उद्योग में इसकी महत्व को अपने अनूठे अदांज में पेश किया. उन्होंने कहा कि राजस्थान दुनिया भर के पर्यटकों को आकर्षित करता है. पर्यटन से पैसा आता है, यह पैसा सभी वर्गों के पास आता है. मोदी ने कहा यहां तक कि चाय बेचने वाले के पास भी यह पैसा आता है. लेकिन सड़कें खराब हो तो आने वाला पयर्टक जल्द यहां से जाने की सोचने लगता है. ऐसे में सड़कों का ढांचा मजबूत होना बेहद जरूरी है और इसके लिए सरकार कार्य कर रही है. करोड़ों के प्रोजेक्ट बनाए जा रहे हैं और उनको मूर्तरूप दिया जा रहा है.

सबसे बड़े हैंगिग ब्रिज पर पीएम ने कांग्रेस सरकार को घेरा

देश के सबसे बड़े कोटा के हैंगिंग ब्रिज के निर्माण में 11 साल का समय लगने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार को घेरा. पीएम ने कहा कि महज 300 करोड़ के इस प्रोजेक्ट को 11 साल लग गए. पुरानी सरकारों ने इसे लटकाए रखा जबकि काम करने वाली हमारी सरकार ने 2014 से शुरू किए 5 हजार छह सौ करोड़ की योजनाएं बनाई और आज लोकार्पण भी हो गया. ये दोनों सरकारों में अंतर है.

खेल गांव से प्रधानमंत्री ने कहा- खम्मा घणी

उदयपुर शहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को अपने संबोधन की शुरुआत ठेठ राजस्थानी अंदाज में खम्मा घणी कहते हुए की. मायड़(राजस्थानी) भाषा में बोलते ही जनता से जोर शोर से पीएम का अभिवादन कियाइस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के संबोधन से पहले केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने अपने संबोधन में प्रदेश में सड़क परियोजनाओं की जानकारी दी. गडकरी के बाद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री के सामने प्रदेश में संचालित विकास योजनाओं का ब्योरा दिया.

 राजस्थान में उज्ज्वला योजना से 21 लाख महिलाओं को मिले गैस कनेक्शन

 

सीएम वसुंधरा ने अपने संबोधन में प्रदेश में चलाई जा रही सरकारी योजनओं की जानकारी देते हुए प्रधानमंत्री को प्रदेश में किए जा रहे विकास कार्यों से अवगत कराया. राजे ने बताया कि पीएम की उज्ज्वला योजना के तहत प्रदेश की 21 लाख महिलाओं को गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं. सीएम राजे ने पीएम मोदी से 4 शहरों को स्मार्ट सिटी के लिए प्रदेश को दिए गए पैसे के लिए आभार प्रकट किया. उन्होंने पीएम को अगले साल मार्च तक पूरे प्रदेश को ओडीएफ बनाने की बात कही. उन्होेंने प्रदेश में प्रदेश में महाराणा प्रताप इंडियन रिजर्व बटालियन के गठन का काम पूरा करने की बात भी कही.