फिल्म का नाम : कैदी बैंड

डायरेक्टर: हबीब फैसल

स्टार कास्ट: आदर जैन, अन्या सिंह,प्रिंस परविंदर सिंह, सिंडी

अवधि:2 घंटा 1 मिनट

सर्टिफिकेट: U/A

रेटिंग: 2.5 स्टार

हबीब फैजल ने अर्जुन कपूर और परिणीति चोपड़ा की फिल्म इशकजादे डायरेक्ट की थी. उसके बाद दावत ऐ इश्क़ और उसके बाद शाहरुख खान की 'फैन' को भी लिखा था. अब उन्होंने नए एक्टर्स को लेकर फिल्म कैदी बैंड' बनाई है. जानते हैं कैसी है फिल्म.

कहानी यह कहानी मुंबई की जेल में कैद अंडर ट्रायल युवाओं की है. इसमें संजय खन्ना उर्फ़ संजू (आदर जैन) , बिंदिया चड्ढा उर्फ़ बिंदु (अन्या सिंह) मस्कीन (प्रिंस परविंदर सिंह) शामिल हैं. इन अंडरट्रायल्स के अपने सपने हैं, जिन्हें वो पूरा करना चाहते हैं, लेकिन उनका केस ही ख़त्म नहीं होता. इसी दौरान 15 अगस्त के दिन जेल में होने वाले कार्यक्रम के लिए एक बैंड को बनाने की बात कही जाती है, जो मंत्री जी के सामने परफॉर्म करता है और अगर सब ठीक रहा तो शायद इन कैदियों को आजादी भी मिल जायेगी, इसी सोच के साथ संजू, बिंदु और उनके साथी 15 अगस्त को परफॉर्म करते हैं, लेकिन कुछ ऐसा सीन हो जाता है कि इन सभी को जेल के भीतर ही और भी ज्यादा वक्त गुजारना पड़ता है, फिर ये कैदी एक प्लान के तहत जेल से भागने की कोशिश करते हैं और आखिरकार एक रिजल्ट आता है, जिसे जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी.

कमज़ोर कड़ियां

फिल्म की कहानी काफी काल्पनिक है, जिस पर बेहद काम किया जा सकता था. ख़ासतौर से फिल्म का अंत कहां करना है. इस पर भी विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए था. फिल्म का संगीत भी रिलीज से हिट नहीं हो पाया है और ट्रेलर भी उतना दिलचस्प नहीं था की वो दर्शकों को थिएटर तक खींच कर ला सके. फिल्म का प्रोमोशन बहुत ही कम किया गया है, जिसकी वजह से बहुत सारे लोगों को पता ही नहीं है की इस नाम की कोई फिल्म रिलीज होने वाले है. जेल से भागने और माल में परफॉर्म करने के सीक्वेंस को आज इक्कीसवीं सदी में पचा पाना बेहद मुश्किल है.

फिल्म क्यों देख सकते हैं

अभिनेत्री अन्या सिंह ने बखूब डीग्लैम अवतार में अभिनय किया है, रणबीर कपूर के चचेरे भाई, आदर जैन की आवाज रणबीर और रणधीर कपूर की मिक्स की हुई लगती है, लेकिन उन्होंने अच्छा अभिनय किया है और पहली फिल्म होते हुए भी कॉंफिडेंट नजर आते हैं. प्रिंस, सिंडी , सचिन पिलगांवकर, राम कपूर का काम भी सहज है. युवा एक्टर्स की जज्बे से भरी हुई कहानिया देखनी पसंद हैं, तो एक बार जरूर देख सकते हैं. कास्टिंग और एडिटिंग के हिसाब से फिल्म जबरदस्त है, साथ ही फिल्म की सिनेमेटोग्राफी भी कमाल की है.

बॉक्स ऑफिस

प्रमोशन और प्रोडक्शन कॉस्ट को मिलाकर फिल्म का बजट लगभग 12 करोड़ बताया जा रहा है. खबर है कि फिल्म लगभग 800 स्क्रीन्स में रिलीज की जाएगी. फिल्म के सैटेलाइट राइट्स पहले ही सोनी नेटवर्क को बेचे जा चुके हैं और साथ ही अमेज़न प्राइम को भी इस फिल्म के अधिकार दे दिए गए हैं, जिसकी वजह से यशराज फिल्म्स ने पहले ही कमाई के हिसाब से इस फिल्म को प्रॉफिट में ले लिया है.