राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में चोटी काटने की एक घटना सामने आई है. घटना बिजौलिया कस्बे के केसरगंज मोहल्ले की है. घटना शनिवार की शाम की है.

देश के कई किस्सों से चोटी कटने की घटनाएं सामने आ रही हैं. हालांकि अब तक चोटी कटने की वारदातों का सच सामने नहीं आ सका है. इन घटनाओं से महिलाओं में डर और अंधविश्वास पनप रहा है. पुलिस भी अब तक इन घटनाओं के पीछे के राज जानने में लगी हुई है.

पीड़ित महिला के परिजनों ने बताया कि शनिवार की शाम वह घर में चारपाई बिछा रही थी, इसी दौरान उसकी चोटी कट गई. घटना के बाद से महिला सदमे से बेहोश हो गई. बेहोशी की हालत में परिजन महिला को नीजि अस्पताल ले गए, जहां उसका प्राथमिक उपचार किया गया. अस्पताल के बाद परिजन महिला को सीधे गांव के बिजासण माताजी मंदिर ले गए. पीड़ित महिला का नाम राधा पत्नी शंकर गोस्वामी है.

परिजनों ने इस घटना के पीछे भीख मांगने आए दो अनजान युवकों पर शक जाहिर किया है. मामले की जानकारी मिलते ही बिजौलिया पुलिस भी मौके पर पहुंच गई, लेकिन परिजनों की ओर से मामला दर्ज नहीं कराया गया. इस घटना के बाद से आसपास के गांवों में भी उर का माहौल बन गया है.