बहुत से लोग ओट्स का सेवन करते है क्योंकि एक हेल्दी फ़ूड माना जाता है। इतना ही नहीं लोगों ओट्स के सेवन से मोटापा भी कम हो जाता है लेकिन अगर इनको गलत तरीके से खाया जाए तो यह फायदा की जगह नुकसान पहुंचा सकते है। बहुत से लोग सोचते है कि वह ओट्स को अपनी डाइट में शामिल भी कर रहे है तो भी हमारा वजन कंट्रोल में नहीं आ रहा। आइए हम आपको बताते की आप कहा गलती कर रहे है। ओट्स का स्वाद काफी अजीब सा होता है जिसके चलते लोग इसे कई चीजों के साथ मिलाकर खाते है। जिस वजह से ओट्स शरीर को फायदे की जगह नुकसान पहुंचाते है। 

 

फ्लेवर्ड या इंस्टैंट ओट्स

बहुत से लोग अपने समय बचाने के लिए पैक ओट्स का इस्तेमाल करते है। इनको खाने से वजन पर कोई फर्क नहीं पड़ता। इसकी के अलावा स्टैंट ओट्स में इन्फ्लामेट्री वेजीटेबल ऑयल, सोडियम अन्य आदि अदिक मात्रा में होता है जिससे वजन बढ़ने लगता है। 

 

अधिक शुगर का इस्तेमाल 
नाश्ते में ओट्स का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है लेकिन इसमें अगर ज्यादा मात्रा में शुगर मिलाकर खाया जाए तो शरीर में चर्बी जमा होने लगती है। इतना ही नहीं, इससे वजन बढ़ने लगता है। इसलिए ओट्स में शुगर की जगह फलों को मिलाकर खाएं। 

 

पर्याप्त प्रोटीन न लेना 
वैसे तो ओट्स में 30 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है। अगर इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन मिलाकर खाया जाए तो ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है। मोटापा भी कम हो जाता है। 

 

ज्यादा मात्रा में ओट्स
अधिकतर लोग क्या करते है कि अपनी आपको हेल्दी और मोटापा कम करने के लिए ओट्स का अत्यधिक सेवन करने लगते है। बेहतर है कि दिन में केवल 1 कप ओट्स का सेवन करें। इससे आपका मोटापा भी कम होगा और शरीर को भरपूर पोषण मिलेगा। 

 

ओट्स में मिलाएं ये चीजें
ओट्स कार्बोहाइड्रेट से भरपूर होती है, जिस वजह से हमे जल्दी भूख लगने लगती है। ओट्स में प्रोटीनयुक्त और वसायुक्त चीजें मिलाएं क्योंकि इससे यह संतुलित डाइट बन जाती है।