नई दिल्ली।   दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं अब दिल्ली उच्च न्यायालय ने उन्हे एक और झटका देते हुए उन पर 5,000 रुपए का जुर्माना लगाया है। दरअसल अरूण जेतली द्वारा दायर दस करोड़ रुपए के मानहानि मामले की नई याचिका पर जवाब दाखिल करने में विलंब होने पर अदालत ने सख्‍ती दिखाते हुए केजरीवाल से जुर्माना वसूलने का आदेश जारी किया।

कोर्ट पहले भी केजरीवाल को लगा चुका है फटकार
इससे पहले 25 अगस्‍त को हाई कोर्ट ने केजरीवाल को इसलिए फटकरा था क्‍योंकि उन्‍होंने कोर्ट के एडवांस सुनवाई के फैसले पर सवाल खड़े कर दिए थे। 2015 में अरुण जेतली ने अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के पांच बड़े नेताओं के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज किया था। केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि अरुण जेतली ने दिल्ली डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन का मुखिया रहते हुए अपने 13 साल के कार्यकाल में भ्रष्टाचार किया था। इसी आरोप के खिलाफ जेतली ने अरविंद केजरीवाल पर 10 करोड़ के मानहानि का केस दर्ज किया था।