नई दिल्ली
आईसीसी वनडे रैंकिंग में नंबर दो और तीन पर काबिज ऑस्ट्रेलिया और भारत के लिए नंबर वन बनने का मौका है। यह मौका बना है दोनों देशों के बीच 17 सितंबर से 1 अक्टूबर तक चलने वाली पांच मैचों की सीरीज की वनडे सीरीज से। फिलहाल दोनों टीमों के 117 अंक हैं। दशमलव के अंतर के आधार से ऑस्ट्रेलिया भारत से आगे है। नम्बर वन पर काबिज साउथ अफ्रीका की टीम इन दोनों से केवल दो अंक ही आगे है। अगर दोनों टीमों में कोई भी 4-1 से जीत हासिल करती है तो यह वह नंबर एक बन जाएगी।

बेहतर स्थिति में मेजबान
भारत की मौजूदा टीम ने श्री लंका को उसी के घर में वनडे सीरीज में 5-0 से पटकनी दी है। टीम के खिलाड़ी जबरदस्त फॉर्म में हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत को घरेलू परिस्थितियों का लाभ होगा। ऐसे में भारत के लिए सीरीज में 4-1 की जीत बहुत मुश्किल नहीं लग रही।

दो बार (1975 और 1979) में वर्ल्ड चैंपियन रही वेस्ट इंडीज की टीम के लिए सीधे क्वॉलिफाइ करने की चुनौती है। उसे इसके लिए आयरलैंड के खिलाफ एकमात्र वनडे मैच को जीतने के अलावा इंग्लैंड के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज भी 5-0 या 4-1 से अंतर से जीतना होगा।