रयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के बच्चे की बेरहमी से की गई हत्या के मामले में पुलिस आऱोपी कंडक्टर का डीएऩए और पोटेंसी टेस्ट करवा सकती है. पुलिस इस मामले में कानूनी जानकारों से सलाह ले रही है.

बताते चलें कि साइबर सिटी गुरुग्राम के प्रतिष्ठित निजी स्कूल रायन इंटरनेशनल में शुक्रवार को दूसरी कक्षा के छात्र की गला काटकर हत्या कर दी गई. सात साल के मासूम प्रद्युम्न ठाकुर का शव स्कूल शुरू होने के महज 15 मिनट बाद शौचालय में मिला.

शव के पास से चाकू भी बरामद किया गया था. पुलिस ने देर शाम हत्या के आरोप में स्कूल बस के कंडक्टर को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस के अनुसार, आरोपी अशोक कुमार  ने हत्या से पहले बच्चे से कुकर्म की कोशिश की थी.

घामड़ौज निवासी अशोक ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल कर लिया है. डीसीपी ने बताया था कि आरोपी ने बच्चे का यौन उत्पीड़न करने का प्रयास किया था, जब बच्चे ने विरोध किया तो आरोपी ने उसे मार डाला.

डीसीपी ने बताया कि अभियुक्त पिछले करीब 8 महीने से स्कूल में काम कर रहा था. आरोपी शौचालय का इस्तेमाल करने गया था, यहीं उसने बच्चे को देखा था. आरोपी के पास पहले से ही चाकू था.