कानपुर/इटावा
कानपुर देहात के फत्तेपुर रौशनाई के क्षेत्रीय इंटर कॉलेज में पढ़ने वालीं 3 लड़कियां सोमवार से लापता थीं। परिवारीजन एफआईआर दर्ज करवाने गए तो चौकी इंचार्ज ने लड़कियों पर ही तमाम आरोप लगाते हुए उन्हें भगा दिया। इटावा में सोमवार को मिली दो लड़कियों की लाश में से एक की शिनाख्त लापता छात्रा के रूप में हुई है। मौके पर मौजूद लोगों का आरोप है कि छात्रा की आंखें निकाल ली गई हैं। हालांकि पुलिस इससे इनकार कर रही है।

एसपी कानपुर देहात ने एफआईआर न दर्ज करने वाले चौकी इंचार्ज को सस्पेंड कर दिया है। साथ ही एक युवक व अन्य के खिलाफ अपहरण और हत्या का मामला दर्ज करवाया है। दूसरी लड़की के शव की शिनाख्त नहीं हो पाई है।

तीनों लड़कियों की उम्र 17 साल है। तीनों का घर आर्यनगर मोहल्ले में है। क्षेत्रीय इंटर कॉलेज में 11वीं क्लास में पढ़ने वाली लड़कियां सोमवार को कॉलेज के लिए निकलीं। छुट्टी के समय के बाद भी लड़कियां घर नहीं पहुंचीं। काफी तलाशने के बाद देर रात तीनों परिवारों के लोग रनिया चौकी पहुंचे। यहां दरोगा रामकिशन गंगवार ने गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखने से इनकार कर दिया।

इसके बाद सोमवार को इटावा में दो लड़कियों का शव मिलें। एक लड़की की पिता की तहरीर पर गजनेर के युवक कुलदीप सिंह के खिलाफ अकबरपुर थाने में हत्या और अपहरण की एफआईआर दर्ज की गई है।

दूसरे शव का डीएनए लेंगे
कानपुर देहात के एसपी दिनेश पाल सिंह के मुताबिक, दूसरी लड़की के शव का डीएन सैंपल और फिंगर प्रिंट्स लिए जाएंगे। मामले के खुलासे के लिए 4-5 टीमें बनाई गईं हैं। इटावा पुलिस के मुताबिक दोनो शव सहसों थाना क्षेत्र में क्वारी नदी के किनारे सिण्डौस घाट पर मिले थे। एक के मुंह में कपड़ा ठुंसा था। दोनों के शरीर पर चोटों के निशान थे।