भरतपुर: राजस्थान के भरतपुर में सिख समाज के लोगों ने अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) में आरक्षण की मांग को लेकर आज यहां विरोध प्रदर्शन किया। समाज के लोगों ने धरना देकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन भी सौंपा। सिख समाज के लोगों का कहना है कि भाट और भाटरा दोनों एक ही शब्द हैं जैसे मीणा और मीना। लेकिन सरकार ने इसकी सही जांच नहीं की और वे आरक्षण से वंचित रह गए।   

 

गौरतलब है कि पंजाब, हरियाणा और एनसीआर में ओबीसी आरक्षण की सूची में भाट और भाटरा शब्द एक ही जाति को माना गया है। सिख एक धर्म है जबकि भाट उसकी एक जाति है और भाट जाति को ही भाटरा शब्द से सम्बोधित किया जाता है।