राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत देशभर की पुलिस के लिए छलावा बन चुकी है. पुलिस उसकी तलाश में छाक छान रही है. राजस्थान में बॉर्डर के हाईवे पर उसकी तलाश की जा रही थी, लेकिन बीते सोमवार को पुलिस की आंखों में धूल झोंक वो उदयपुर के एक मॉल में घूमी. इसके बाद उदयपुर के पास दो डेरों में गई. इतना ही नहीं वो भरोसेमंद डेराप्रेमियों से भी मिली.

हनीप्रीत की तलाश में जुटी हरियाणा और राजस्थान पुलिस को अचानक उसकी लोकेशन उदयपुर की सेलिब्रेशन मॉल मिली. पुलिस सूत्रों का कहना है कि हनीप्रीत ने उदयपुर के डेरा इंचार्ज प्रदीप गोयल को फोन किया था. इसी कॉल से पीछा करते हुए हरियाणा पुलिस शनिवार रात को उदयपुर पहुंची. होटल से लेकर मॉल छाने, लेकिन हनीप्रीत नहीं मिली. फिर प्रदीप गोयल को हिरासत में लिया. प्रदीप ने बताया कि वो नेपाल गई. प्रदीप का मोबाइल जब्त कर लिया. माना जा रहा है कि हनीप्रीत और राम रहीम के कुछ राज हैं. प्रदीप से पूछताछ कर हरियाणा पुलिस हनीप्रीत की अगली लोकेशन की तलाश करेगी.

हनीप्रीत और राम रहीम इससे पहले भी एक अगस्त को उदयपुर आए थे. वो राम रहीम का जन्मदिन बनाने आए थे. वो होटल लीला में रुके जहां 27 कमरे बुक थे. जमकर पार्टी की गई. इसके बाद वो सेलिब्रेशन मॉल घूमने गए.

हनीप्रीत फिर उदयपुर आई तो इस मॉल में गई, मानो उसे पकड़े जाने और पुलिस का कोई डर ही नहीं था. लेकिन सवाल ये भी है कि हनीप्रीत को अगर नेपाल भागना था तो फिर उदयपुर क्यों आई. कहीं राजस्थान बॉर्डर उसका प्लान बी तो नहीं था. उस दौरान उसकी लोकेशन बाड़मेर में होने का भी दावा किया गया था. बाड़मेर पुलिस ने हाईवे पर ढाबे भी तलाशे थे.