भारत में अापकाे हर जगह एेसी कुछ अांटियां मिल ही जाएगी, जिनकी बातें सीधा दिल काे चुभती हैं। अाप बात न भी करना चाहें, ताे वह खुद से ही बात करना शुरु कर देगी और एेसे-एेसे सवाल पूछेंगी, जिनका जवाब शायद अापकाे भी नहीं पता हाेगा। कुछ बातें ताे एेसी हाेगी जाे शायद अाप अपने पैरेंट्स के सामने सुनना न भी पसंद करें, पर ये आंटियां कहां मानने वाली हैं, ये ताे अपनी बात पूरी करके ही मानेंगी। चाहे बाद में अापकी क्लास ही क्यूं न लग जाएं। 

जानिए कैसी बातें करती हैं ये अांटियांः-

- बेटा, शादी करने का कब प्लॉन है? देखाे शर्मा साहब की बेटी की भी शादी हाे गई, अब तुम्हारी बारी है! 

- अाे माई गॉड कितनी बड़ी हाे गई हाे तुम! इतनी सी थी जब तुम्हें देखा था। 

- अरे कितनी पतली हाे गई हाे! कुछ खाती नहीं? अाे... जरूर डाइटिंग कर रही हाेगी।

- ..और बेटा पढ़ाई कैसी चल रही है? 

- बेटा, तुम्हें उस दिन मॉल में देखा था किसी लड़के के साथ। काैन था वाे?

- कुछ खाना बनाना सीखा है या अभी भी सिर्फ मैगी बनाने में ही एक्सपर्ट हाे।

- इतने छाेटे-छाेटे कपड़े पहनकर घूमती हाे, मम्मी-पापा कुछ नहीं कहते।

- काेई लड़का पसंद है ताे मुझे बताअाे? मैं बात चलाती हूं।

- शादी हाे गई बेटा, अब खुशखबरी कब सुना रही हाे?

- अाजकल के बच्चे ताे जाे मन में अाता है वाे करते हैं, पर बेटा तू मम्मी-पापा की नाक मत कटवाना।