देश भर में बढ़ती डीजल-पेट्रोल की कीमतों को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पलटवार किया है। बुधवार को जेटली ने गैर भाजपा शा‌सित राज्यों और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग सवाल उठा रहें हैं वे अपने यहां दाम घटाएं। पेट्रोल की बढ़ती कीमतों पर कांग्रेस ने केंद्र सरकार की नीतियों को लेकर सरकार पर सवाल उठाए हैं। रोहिंग्या मामले पर जेटली ने कहा कि यह एक नीतिगत मुद्दा है और इस संबंध में सरकार सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर चुकी है।
 

इसके अलावा वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि ITDC के होटल जयपुर अशोक को राजस्थान सरकार और ललिता महल पैलेस होटल, मैसूर को कर्नाटक सरकार को सौंपा जाएगा। 

बता दें कि डीजल-पेट्रोल के बढ़ते दामों पर कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार की नीतियों को लेकर

इससे पहले केंद्र सरकार ने रेल कर्मचारियों को तोहफा देते हुए दिवाली से पहले बोनस देने की घोषणा की है। कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि यह बोनस उन्हीं कर्मचारियों को मिलेगा जिनकी उत्पादकता काफी अच्छी रही है। इसके साथ ही उत्पादकता को बढ़िया करने के लिए सरकार इंसेंटिव भी देगी।
 
जेटली ने इसके साथ ही बताया कि सरकार भारत सरकार की 17 प्रेस यूनिट को मर्ज करके 5 यूनिट रखेगी। इसके साथ ही केंद्र सरकार ने आईटीडीसी के जयपुर स्थित अशोक होटल को राजस्थान सरकार को और मैसूर स्थिल ललिता महल पैलेस होटल को कर्नाटक सरकार को ट्रांसफर करने का फैसला किया है।