दिवाली से पहले केंद्रीय सरकार ने रेलवे कर्मचारियों के लिए बोनस का ऐलान किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई है. इस फैसले से 12.58 लाख से अधिक रेलकर्मियों को लाभ मिलेगा.

बोनस में मिलेगी 78 दिन की सैलरी
- केंद्रीय कैबिनेट ने रेलवे के कर्मचारियों को प्रोडक्टिविटी लिंक्ड बोनस (PLB) को मंजूरी दे दी.

- यह बोनस त्योहारी सीजन से पहले कर्मचारियों को दिया जाएगा. सरकार की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक रेलवे की उत्पादकता और क्षमता को बढ़ाने के लिए यह बोनस दिया जा रहा है.

- रेलवे के कर्मचारियों को प्रोडक्टिविटी लिंक्ड बोनस वित्त वर्ष 2016-17 की 78 दिन की सैलरी के बराबर मिलेगा.

- दशहरे से पहले कर्मचारियों के खातों में यह पैसा ट्रांसफर कर दिया जाएगा.

राज्यों को ट्रांसफर होंगे होटल
कैबिनेट ने आईटीडीसी के तीन और होटलों को राज्यों को ट्रांसफर करने को मंजूरी दे दी है. कैबिनेट मीटिंग के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने यह जानकारी दी.जेटली ने कहा कि होटल जयपुर अशोक को राजस्थान सरकार और मैसूर के ललित महल पैलेस होटल को कर्नाटक सरकार को ट्रांसफर किया जाएगा.

जेटली ने बताया कि 17 सरकारी प्रिंटिंग प्रेस को मर्ज कर 5 बड़ी प्रेस बनाई जाएंगी और उनकी क्षमता बढ़ाई जाएगी, इस फैसले से किसी कर्मचारी की नौकरी नहीं जाएगी.

खेलो इंडिया पर बड़ा फैसला
कैबिनेट बैठक में 'खेलो इंडिया' पर भी फैसला किया है. खेलो इंडिया की शुरुआत 2016 में हुई थी उस दौरान इसका बजट 500 करोड़ था. जिसे बढ़ाकर 1756 करोड़ किया गया है, यह बजट 2017-18 से 18-19 तक का है. यह योजना खेल, खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए बनाई गई थी.

इसके तहत हर जिले में स्पोर्ट्स इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा करना, खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं की व्यवस्था की जाएगी. वहीं इसके जरिए ओलंपिक में अधिक मेडल जीतने पर जोर दिया जाएगा.