मध्य प्रदेश में एक बार फिर किसान आंदोलन के उभरने के आसार हैं. भारतीय किसान यूनियन का बड़ा सम्मेलन 6 अक्टूबर को होगा, जिसकी जानेमाने किसान नेता महेन्द्र सिंह टिकैट तैयारियों का जायजा लेंगे.

भारतीय किसान यूनियन ने आंदोलन की तैयारी शुरू कर दी है. किसान नेता रहे महेन्द्र सिंह टिकैट का जन्मदिन 6 अक्टूबर को है. यूनियन भोपाल में एक बड़ा किसान सम्मेनल करने जा रहा है. इस सम्मेलन में एमपी के साथ ही दूसरे राज्यों के किसान नेता भी शामिल होंगे.

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश सिंह टिकैट ने आज किसान सम्मेलन की तैयारियों का जायजा लिया. मीडिया से चर्चा में टिकैट ने अजीबो गरीब बयान देते हुए कहा कि किसानों को अब फसलों का उत्पादन कम कर देना चाहिए.

देश के राष्ट्रीय उत्पादन को बढ़ाने का ठेका सिर्फ किसानों ने ही नहीं ले रखा है. ज्यादा उत्पादन से फसल के दाम गिर जाते हैं और किसान को नुकसान होता है. इससे अच्छा है किसान खाद-दवा पर कम खर्च करे और उत्पादन कम करें तो बाजार में फसलों के मुंह मांगे दाम मिलेंगे.

गौरतलब है कि कुछ माह पहले ही मध्य प्रदेश में प्याज की भारी पैदावार और उसकी सरकारी खरीद न होने के कारण किसानों ने व्यापक आंदोलन छेड़ा. इस दौरान मंदसौर जिले में पुलिस की फायरिंग में कई किसान मारे भी गए थे.