फिल्म का नाम : हसीना पारकर

डायरेक्टर: अपूर्व लाखिया

स्टार कास्ट: श्रद्धा कपूर, अंकुर भाटिया, सिद्धांत कपूर, दधि पांडेय

अवधि: 2 घंटा 04 मिनट

सर्टिफिकेट: U/A

रेटिंग: 2 स्टार

शूटआउट एट लोखंडवाला, एक अजनबी, जंजीर जैसी फिल्मों का निर्माण कर चुके डायरेक्टर अपूर्व लाखिया ने अब अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर की जिंदगी पर आधारित फिल्म का निर्माण किया है. फिल्म की कास्टिंग भी काफी अलग तरह की रखी गई है. आइए जानें, कैसी रही फिल्म और क्या होने वाला है इसका अंजाम.

कहानी

यह कहानी मुंबई में 2007 के कोर्ट रूम में शुरू होती है जहां हसीना पारकर (श्रद्धा कपूर) के ऊपर कई केस के तहत सुनवाई हो रही है. वक़ील (प्रियंका सेतिया) के पूछे जाने पर हसीना पारकर अपने पिता (दधि पांडे), भाई दाऊद (सिद्धांत कपूर) और हसबैंड (अंकुर भाटिया) के बारे में कई बातें बताती है. इसी दौरान बाबरी मस्जिद, हिंदू मुस्लिम दंगे, मुंम्बई ब्लास्ट जैसी कई घटनाओं का ज़िक्र होता है. पारिवारिक मुद्दों के साथ ही अहम बातों की तरफ ध्यान आकर्षित किया जाता है. फिल्म को अंजाम क्या मिलता है इसका पता आपको फिल्म देखकर ही चलेगा.

क्यों देख सकते हैं फिल्म

- फिल्म का डायरेक्शन और बैकड्रॉप अच्छा है. अपूर्व लाखिया की शूटिंग स्टाइल काबिल ए तारीफ है और प्रेजेन्ट करने का ढंग कमाल का है.

- कैरेक्टर एक्टर के तौर पर दधि पांडे ने हसीना के पिता का किरदार बढ़िया निभाया है वहीं हसीना के हसबैंड के रोल में अंकुर भाटिया फिट रहे हैं.

- फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर अमर मोहिले ने उम्दा दिया है जो पूरी कहानी में जंचता है. अगर श्रद्धा कपूर के बहुत बड़े फैन हैं तो फिल्म एक बार देख सकते हैं.

कमजोर कड़ियां

- फिल्म की कहानी और खास तौर पर स्क्रीनप्ले काफी कमजोर है जिसकी वजह से एक वक़्त के बाद काफी बोरियत होने लगती है.

- फिल्म की कास्टिंग भी काफी कमजोर है, जहां एक तरफ श्रद्धा कपूर कहीं ठीक लगती हैं तो कहीं किरदार के साथ न्याय नहीं कर पाती हैं. सिद्धांत कपूर के रूप में हमने सबसे कमजोर अंडरवर्ल्ड डॉन देखा है, उस पर ज़्यादा मेहनत की जाती तो फिल्म और बेहतर लगती.

- फिल्म का सेकेंड हाफ कमजोर लगता है. फिल्म में कोर्टरूम ड्रामा देखकर कई बार हंसी आ जाती है.

- फिल्म की एडिटिंग और दुरूस्त की जा सकती थी. फिल्म के गाने भी कुछ खास नहीं हैं.

बॉक्स ऑफिस

प्रोडक्शन कॉस्ट और प्रोमोशन को मिलकर फिल्म का बजट लगभग 30-35 करोड़ बताया जा रहा है. अगर वीकेंड तक फिल्म का वर्ड ऑफ़ माउथ और कलेक्शन सही रहा तो अगले हफ्ते स्क्रीन्स बढ़ाए जा सकते हैं.