एक भक्त की मन्नत क्या पूरी हुई वह लगभग दो सौ किलोमीटर दूर मध्य प्रदेश के मैहर पहुंचा और मां शारदा की शक्ति पीठ पहुंचकर अपनी जीभ को काटकर माता को समर्पित कर दिया.

जीभ कटने के बाद भक्त की हालत नाजुक हो गई जिसे मैहर के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां से हालात गंभीर होने पर अब सतना जिला अस्पताल रेफर किया गया.

मध्य प्रदेश के सतना जिले में स्थित मैहर के त्रिकुट पर्वत में विराजमान आदिशक्ति मां शारदा के दरबार मे मत्था टेकने लिए देश के कोने-कोने में लाखों श्रद्धालु आते हैं.

मैहर माई के दर्शन करने पहुंचे इलाहाबाद के दिनेश ने मां के गर्भगृह के पीछे, जहां कभी नारियल तोड़े जाते थे, वहां पहुंचकर अपने पास रखी ब्लेड से पल भर में अपनी आधी जीभ काटकर अलग कर दी. इसके बाद दिनेश निढाल होकर वही गिर पड़ा.

इस बात की खबर जैसे ही सुरक्षाकर्मियों को लगी उन्होंने डॉक्टरों को कॉल किया. मंदिर परिसर में मौजूद डॉक्टर फौरन स्ट्रेचर लेकर पहुंचे और दिनेश को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया जहां अत्यधिक रक्त स्राव की वजह से हालात नाजुक है. दिनेश के जिला अस्पताल उपचार के लिए भेजा गया.

हर वर्ष मैहर मंदिर से इस तरह की खबरे आती रहती है कोई जीभ चढ़ा देता है तो कुछ ऐसे भी वाकए सामने आए जब माँ की पहाड़ी में लोग अपनी जीवन गाथा ही खत्म कर देते हैं.