मंगलवार को एक बड़ा रेल हादसा टल गया. रिपोर्ट के मुताबिक, एक ही रेल ट्रैक पर तीन ट्रेनें आ गईं. अंतिम समय में सावधानी से बड़ी दुर्घटना होने से बच गई.

रिपोर्ट के मुताबिक, इलाहाबाद के नजदीक एक रेलवे ट्रैक पर दुरंतो एक्सप्रेस, हटिया-आनंद विहार एक्सप्रेस और महाबोधी एक्सप्रेस एक ही ट्रैक पर आ गई थी.

जानकारी के मुताबिक, ये घटना सुबह 10 बजे इलाहाबाद क्रॉसिंग से महज एक किलोमीटर की दूरी पर हुई. इसी दौरान दुरंतो के आगे एक साइकिल रिक्शा आ गया.

हालांकि, ड्राइवर ने तुरंत इमरजेंसी ब्रेक लगा दिए. ऐसे में दुरंतो के रुक जाने की वजह से महाबोधि और हटिया-आनंद एक्सप्रेस को ऑटो सिग्नल मिला और दोनों ट्रेनें भी रुक गईं.

चश्मदीद के मुताबिक, तीनों की एक दूसरे से दूरी करीब 100 मीटर थी. तीनों ट्रेनों के एक ही ट्रैक पर होने से यात्रियों में अफरा-तफरी की स्थिति थी.


इसके पहले हुए हादसे

> इससे पहले तीन सितंबर को आगरा-ग्वालियर पैसेंजर ट्रेन की एक बोगी आगरा कैंट स्टेशन के करीब पटरी से उतर गई. इस हादसे में किसी के हताहत या घायल होने की सूचना नहीं थी.

> 23 सितंबर को ही लखनऊ के मानक नगर स्टेशन के पास एक बड़ा हादसा टला था. वहां लखनऊ से मुंबई जाने वाली पुष्पक एक्सप्रेस ( 12533) मानक नगर क्रॉसिंग से निकल रही थी, तभी ट्रेन के इंजन के गुजरने के बाद पटरी टूट गई. इस दौरान टूटी पटरी से पूरी ट्रेन गुजर गई.

> 19 सितंबर को बालामऊ-बुढ़वल पैसेंजर ट्रेन 54322 का इंजन पटरी से उतर गया. ट्रेन बुढ़वल से बालामऊ जा रही थी. इसी दौरान स्टेशन से कुछ दूरी पर रेलवे क्रासिंग के पास ट्रेन के दो डिब्बे पटरी से उतर गए.

> 14 सितंबर को जम्मू-दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस पटरी से उतर गई थी. हादसा सुबह छह बजे नई दिल्ली स्टेशन पर हुआ था. इसमें भी किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं मिली थी.