जब आप अपने प्रेमी के साथ बिस्तर में होते हैं तो आप कभी नहीं चाहेंगे कि आपके साथी के मन में अनिच्‍छा पैदा हो। हर किसी के इस बारे में स्‍पष्‍ट विचार नहीं होते कि किस तरह से सेक्‍स कैसे किया जाए कि अपने साथ-साथ पार्टनर को भी अच्छा महसूस हो। आगे की स्लाइड्स में कुछ सामान्‍य गलतियां बताई गईं हैं जो सेक्स के दौरान आपको बिल्कुल नहीं करनी चाहिए...
 

किस करने से परहेज करना

 
आप इस बात को मानें चाहे न मानें, कई लोग (इसमें महिलाएं भी शामिल हैं) सेक्स करते वक्त अपने साथी को किस नहीं करते हैं। इसकी वजह? शायद शारीरिक मुद्रा की वजह से ऐसा करना संभव नहीं होता या शायद वे क्लाइमैक्‍स (चरमोत्कर्ष) के लिए इतना उत्सुक होते हैं कि उन्‍हें लगता है किस करने से यह उनका रिदम टूट जाएगा। इसके बावजूद, सेक्स एक्सपर्ट्स यही सलाह देते हैं कि सेक्स के दौरान पार्टनर को किस जरूर करें। यह आपके अनुभव को और बेहतरीन बनाएगा।
 

साथी के तैयार होने से पहले उसे काटना

 
हालांकि बहुत से लोगों को आक्रामक साथी पसंद आते हैं, फिर भी पार्टनर के ऐक्ट के लिए पूरी तरह से तैयार होने से पहले ही उसके शरीर के किसी हिस्से को काटने से दर्द और असुविधा महसूस हो सकती है या फिर इससे आपका साथी डर भी सकता है। इसलिए आप अपने साथी के कान, कंधे, गर्दन या शरीर के किसी भी हिस्से को काटने से पहले सुनिश्चित करें कि आपका साथी ऐक्ट के लिए पूरी तरह से एक्साइटेड हो चुका है।
 

दूसरे बॉडी पार्ट्स को नज़रदांज़ करना

 
इसमें कोई शक नहीं है कि सेक्‍स के लिहाज से प्राइवेट पार्ट्स सबसे अहम हैं लेकिन आपको अपने प्रेमी के शरीर के दूसरे हिस्सों पर भी निश्चित रूप से ध्यान देना चाहिए और कुछ समय के लिए उसके पूरे शरीर- घुटने, कलाई, पीठ और पेट पर ध्यान देना चाहिए। ये पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं के लिए भी अत्‍यंत कामोत्तेजक अंग हैं। शरीर के इन अंगों को धीरे-धीरे सहलाने से आपके साथी को उत्तेजना महसूस होगी और इसका नतीजा यह होगा कि आपके साथी द्वारा आपको सुख पहुंचाने की संभावना भी बढ़ जाएगी।
 

पार्टनर पर अपना पूरा वजन डाल देना

 
कभी-कभी ऐसे लम्‍हों में अपनी सुध-बुध खोना और अपने प्रेमी के साथ जुनून-भरा व्‍यवहार करना ठीक होता है। लेकिन जब आप अपने साथी के ऊपर हों तो आपको सावधान रहना होगा कि आप अपना पूरा वजन अपने साथी के शरीर पर न डालें। पार्टनर के शरीर पर अपना पूरा भार डालकर उसे परेशानी में डालने या सांस लेने में तकलीफ पैदा करने से उस खास पल का मजा खत्म हो जाएगा और आनंदकारी यौन-गतिविधियों की संभावना भी समाप्‍त हो जाएगी।
 

क्‍लाइमेक्‍स पर बहुत जल्दी या देर से पहुंचना

 
यह विशेष रूप से पुरुषों के लिए है। आपको अपनी मांसपेशियों पर अच्छा नियंत्रण रखने की ज़रूरत है ताकि यह सुनिश्चित हो कि आप उचित समय पर इजैक्‍युलेट (वीर्य स्खलन) करें। अगर ऐसा आप बहुत जल्दी कर देंगे तो आपकी पार्टनर असंतुष्ट रह जाएंगी और बहुत देर से होने पर पार्टनर को महसूस होगा कि वह जिम में भारी वजन के साथ एक्‍सर्साइज कर रही हैं। इससे बचने के लिए, फोरप्‍ले में अधिक समय व्यतीत करें। (यह महिला और पुरुष दोनों के लिए है)
 

अपने साथी को चेतावनी न देना

 
यदि आप क्लाइमेक्‍स पर पहुंचने वाले हैं- और यह महिलाओं पर भी लागू होता है- चाहे ओरल सेक्‍स हो या संभोग के दौरान, आपको अपने साथी को पहले बताना चाहिए। आसान शब्‍दों में यह कहना पर्याप्त होगा। आपके साथी को यह जानने का हक है।
 

सेक्स को पॉर्न न बनाएं

 
हालांकि कुछ दंपत्तियों को अश्लील और असाधारण सेक्स में आनंद आता है लेकिन इस तरह के व्यवहार में संलग्न होने से पहले अपने साथी से बात करना अच्छा रहेगा। यदि आप अपने प्रेमी से बात किए बिना कि क्या उसे ये सब पसंद है, कोई कामुक गतिविधि शुरू कर देते हैं तो संभावना है कि यह स्थिति किसी सुखद अंजाम पर खत्‍म नहीं होगी।
 

पूरे ऐक्ट के दौरान चुप रहना

 
क्या आपको अच्छा लगता है जब आपका पार्टनर आपसे कहे कि उसे अच्छा महसूस हो रहा है? अगर हां तो आपको भी उसे वैसा ही सम्मान देना चाहिए और जब आपको सेक्स के दौरान आनंद आ रहा हो तो पार्टनर को बताएं। आहें भरकर, थोड़ी सिसकी लेकर या ऐसा कुछ कहकर बहुत कि 'अच्छा लग रहा है' इससे आपका साथी प्रोत्साहित होगा और उसे आपको अधिक आनंद देने वाले हिस्सों की जानकारी होगी।
 

मशीन की तरह काम निपटाना

 
आपको जिम की तरह तेज़ रफ्तार के साथ शारीरिक मेहनत करना अच्‍छा लगता होगा लेकिन आप जल्दी ही जान जाएंगे कि ज्यादातर लोगों को सेक्स में जल्दबादी पसंद नहीं आती। इसे धीरे-धीरे आराम से समय देकर करें। किसी समय तेज़ी दिखाए, फिर रफ्तार धीमी करें। रचनात्‍मक बनें और आप पाएंगे कि आपको भी बदलाव पसंद आ रहा है।