बिलासपुर। किसानों को दीपावली के पहले बोनस भुगतान किया जायेगा। इसके लिए पूरी प्रक्रिया एवं कार्ययोजना की जानकारी दी गई है। इसमें किसी तरह की समस्या आती है, तो प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ राज्य विपणन संघ को बताएं। अपर मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त अजय सिंह ने कलेक्टोरेट के मंथन सभाकक्ष में बिलासपुर एवं सरगुजा संभाग के खरीफ 2017 की प्रगति एवं रबी 2017-18 के कार्यक्रम निर्धारण हेतु आयोजित बैठक में सभी जिला कलेक्टरों एवं संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।
कृषि उत्पादन आयुक्त श्री सिंह ने खरीफ 2017 की प्रगति एवं आगामी प्रस्तावित रबी कार्यक्रम की जानकारी लेते हुए कहा कि खरीफ फसल कम वर्षा की स्थिति में प्रभावित हुआ है। सुखा प्रभावित तहसीलों में सुखा राहत के निर्देश के अनुरूप कार्यवाही सुनिश्चित करें। साथ ही इसमें आवश्यक सतर्कता बरतें। उन्होंने यह भी कहा कि फसल बीमा योजना किसानों के लिए महत्वपूर्ण है। इसके लिए समय पर कार्यवाही एवं डेटा अपलोड करें। फसल बीमा योजना में कोई भी न छूटे, इस पर विशेष ध्यान दिया जाये। श्री सिंह ने आगामी रबी के लिए पर्याप्त खाद-बीज की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में वर्षा हुई थी। जिससे नमी बढ़ी है, जो रबी फसल के लिए फायदेमंद हो सकता है।

कृषि उत्पादन आयुक्त ने कहा कि उद्यानिकी, पशुपालन एवं मछली पालन विभाग द्वारा विभिन्न व्यवस्था के लिए अपेक्षा व्यक्त की गई है। उसे निराकरण करने के लिए हरसंभव प्रयास किया जायेगा। बैठक में कृषि विभाग के समीक्षा के दौरान फसल क्षेत्राच्छादन के अलावा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, मिट्टी परीक्षण, स्प्रींकलर, सौर सुजला योजना एवं जैविक खेती के संबंध में विस्तार से चर्चा करते हुए आवश्यक निर्देश दिए गए। कृषि उत्पादन आयुक्त ने कहा कि सुखा प्रभावित तहसीलों में बीज मिनीकिट वितरण को प्राथमिकता दें। इस वर्ष प्रमाणित बीज की दरों में कमी की गई है। श्री सिंह ने मण्डी बोर्ड द्वारा विभिन्न जिलों में उपभोक्ता बाजार निर्माण के लिए जिला कलेक्टरों से जमीन उपलब्ध कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि उपभोक्ता बाजार का लोकेशन सही जगह में होना चाहिए। ताकि किसान आसानी से पहुंच सके। उपभोक्ता बाजार में किसान अपनी उपज सब्जी इत्यादि को आसानी से बेच सकेंगे। इसी तरह जहां गोदाम निर्माण किया गया है। वहां पहुंच मार्ग होना चाहिए। ताकि आसानी से खाद-बीज इत्यादि भण्डारण किया जा सके।
कृषि उत्पादन आयुक्त ने बिलासपुर एवं सरगुजा संभाग के जिलेवार विस्तार से समीक्षा की।
बैठक के प्रारंभ में आयुक्त बिलासपुर संभाग श्री टी.सी. महावर ने बिलासपुर संभाग में खरीफ 2017 की क्षेत्राच्छादन एवं आगामी प्रस्तावित रबी कार्यक्रम की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रबी एवं उद्यानिकी के क्षेत्राच्छादन बढ़ाने का प्रस्ताव है। श्री महावर ने बताया कि खरीफ सीजन में धान बीज की कोई दिक्कत नहीं हुई। संभाग के कई क्षेत्रों में कम वर्षा के कारण खरीफ फसल प्रभावित हुई है। इसके अलावा उन्होंने सरगुजा संभाग के बारे में भी अवगत कराया। छत्तीसगढ़ राज्य विपणन संघ के प्रबंध संचालक श्री अन्बलगन पी. ने किसानों को बोनस वितरण के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह बिलासपुर संभाग से किसानों को बोनस वितरण की शुरूआत करेंगे। बिलासपुर में संभवत: 3 अक्टूबर को बोनस वितरण किया जायेगा। उन्होंने बताया कि बोनस वितरण के लिए जिस तिथि को निर्धारित की गई है, उसी दिन किसानों के खाते में राशि ट्रांसफर हो जायेगा। इसके लिए आवश्यक व्यवस्था की गई है। उन्होंने स्थानीय स्तर पर भी बैंक एवं संबंधित अधिकारियों को आपस में चर्चाकर कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जहां कार्यक्रम होना है, वहां नेट कनेक्टिविटी व्यवस्था सुनिश्चित करें। ताकि किसानों के खाते में राशि ट्रांसफर के लिए किसी तरह की दिक्कत न हो। जिन किसानों को रूपे कार्ड दिया जा चुका है, वे अपने खाते से एटीएम के माध्यम से भी राशि निकाल सकते हैं। किसानों की बोनस राशि कार्यक्रम के दिन ही ट्रांसफर होगी।

       बैठक में संभागायुक्त सरगुजा सुश्री रीता शांडिल्य, कृषि सचिव श्री अनुप श्रीवास्तव, बीज एवं कृषि विकास निगम के प्रबंध संचालक श्री आलोक अवस्थी, संचालक उद्यानिकी श्री नरेन्द्र कुमार पाण्डेय, पंजीयक सहकारी संस्थाएं श्री जे.पी. पाठक, संचालक मत्स्य पालन श्री शुक्ला एवं संचालक पशुपालन श्री पाण्डेय ने भी अपने विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के संबंध में अवगत कराया। कलेक्टर बिलासपुर श्री पी. दयानंद, जांजगीर-चांपा कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन, कोरबा कलेक्टर श्री मो.कैसर अब्दुलहक, रायगढ़ कलेक्टर श्रीमती शम्मी आबिदी, कलेक्टर मुंगेली श्री नीलम नामदेव एक्का, सरगुजा कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल, कलेक्टर बलरामपुर श्री अवनीश शरण, कलेक्टर कोरिया नरेन्द्र कुमार दुग्गा, कलेक्टर जशपुर डॉ. प्रियंका शुक्ला, कलेक्टर सूरजपुर श्री के.सी.देवसेनापति ने अपने जिले की प्रगति के संबंध में अवगत कराया। बैठक में समस्त संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।