मेष
कोई न कोई समस्या आपके लिए टैंशन-परेशानी बनाए रखेगी, मगर लोहा-मशीनरी लोहा के कलपुर्जों, हार्डवेयर का काम करने वालों को अपने कामों में अच्छा लाभ मिलेगा। 1 अक्तूबर को सफलता तथा इज्जत-मान के लिए सितारा अच्छा, 2 से 4 अक्तूबर बाद दोपहर तक धन लाभ तथा कारोबारी टूरिंग के लिए समय बेहतर, इज्जत-मान की प्राप्ति, 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक उलझनों-समस्याओं का जोर, धन-हानि तथा खर्चों का सिलसिला भी रहेगा, मगर 6 से 7 अक्तूबर तक कामकाज की दशा अच्छी, यत्नों में सफलता मिलेगी।

वृष सरकारी कामों में कामयाबी, कारोबारी  धन लाभ के लिए समय अच्छा, मगर हर मोर्चा पर सावधानी बरतनी चाहिए। राहू की कमजोर स्थिति के कारण घटिया साथी किसी न किसी मुसीबत को खड़ा रख सकते हैं, एहतियात जरूरी। 1 अक्तूबर को बुद्धि निर्मल, आम हालात बेहतर, 2 से 4 बाद दोपहर तक सरकारी, गैर-सरकारी कामों में कदम बढ़त की तरफ, 4 अक्तूबर बाद दोपहर से 6 शाम तक सितारा आमदन के लिए अच्छा, कारोबारी यत्न अच्छा रिजल्ट देंगे, 6 शाम से 7 अक्तूबर तक न तो किसी पर ज्यादा भरोसा करें और न ही किसी की जिम्मेदारी में फंसें।

मिथुन सेहत के लिए ग्रह ढीला मगर राजकीय कामों में कदम बढ़त की तरफ रहेगा, अफसर सपोर्टिव तथा सॉफ्ट रुख रखेंगे, विरोधी निस्तेज बने रहेंगे। 1 अक्तूबर को पेट के लिए समय कमजोर, नुक्सान तथा धन हानि का भय, 2 से 4 अक्तूबर बाद दोपहर  तक इरादों में कामयाबी, नेक कामों में ध्यान, 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक अफसरों के नर्म रुख के कारण किसी सरकारी काम में कोई बाधा-मुश्किल हटेगी, 6 शाम से 7 अक्तूबर तक व्यापार-कारोबार में लाभ, हर तरह से बेहतरी होगी।

कर्क सेहत के मामले में अटैंटिव रहना ठीक रहेगा, मगर कामकाजी दशा संतोष जनक, बड़े लोगों के सहयोग से आपकी कोई समस्या सहज बन सकती है। 1 अक्तूबर को व्यापार-कामकाज की दशा अच्छी, सफलता साथ देगी, 2 से 4 अक्तूबर बाद दोपहर तक सेहत का ध्यान रखें, खानपान भी संभल कर करना चाहिए मगर 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक धार्मिक साहित्य के पठन-पाठन तथा कथा वार्ता सुनने में रुचि रहेगी, फिर 6 शाम से 7 अक्तूबर तक जिस काम के लिए यत्न करेंगे, उसमें कामयाबी मिलेगी, मान-सम्मान की प्राप्ति।

सिंह
कारोबारी दशा अच्छी, सफलता साथ देगी, प्रभाव-दबदबा बना रहेगा मगर सेहत का ध्यान रखें, मौसम के प्रभाव से भी अपना बचाव रखना ठीक रहेगा। 1 अक्तूबर को शत्रु जोर पकड़ सकते हैं। इसलिए उनसे बचाव रखें मगर 2 से 4 अक्तूबर बाद दोपहर तक अर्थ तथा कारोबारी दशा अच्छी, मन में सफर की चाहत रहेगी, 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक सेहत की संभाल रखें, अचानक ही सेहत के बिगडऩे का डर रहेगा, फिर 6 शाम से 7 अक्तूबर तक उद्देश्य प्रोग्राम हल होंगे, आमतौर पर कदम बढ़त की तरफ।

कन्या विरोधियों के उभरने तथा सेहत के बिगडऩे का डर रहेगा, मगर कामकाजी दशा संतोषजनक, यत्नों-प्रोग्रामों में कामयाबी मिलेगी। 1 अक्तूबर संतान साथ देगी तथा सपोर्ट करेगी, 2 से 4 बाद दोपहर तक दुश्मन आपके खिलाफ अपनी शरारतें बढ़ा सकते हैं, इसलिए उनसे लापरवाह न रहें मगर 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक व्यापार तथा कामकाज की स्थिति बेहतर, हर मामले को दोनों पति-पत्नी एक ही नजर से देखेंगे, फिर 6 शाम से 7 अक्तूबर तक सेहत, खास कर पेट का सितारा ढीला, सफर भी न करें।

तुला
सफलता साथ देगी, यत्नों-प्रोग्रामों में कामयाबी मिलेगी, सोच-विचार में गंभीरता रहेगी, मगर किसी शत्रु के टकरावी मूड के कारण फिक्र परेशानी लगी रहेगी। 1 अक्तूबर को जायदादी कामों में कामयाबी मिलेगी, 2 से 4 बाद दोपहर तक स्कीमें-प्रोग्राम मैच्योर होंगे, वैसे भी हर तरह से बेहतरी होगी, 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक विरोधियों को कमजोर न समझें क्योंकि वे आपको नुक्सान पहुंचाने के लिए सरगर्म दिखेंगे, मगर 6 शाम से 7 अक्तूबर तक कारोबारी दशा संतोषजनक।

वृश्चिक जिस काम के लिए मन बनाएंगे, उसमें कामयाबी मिलेगी, प्रभाव-दबदबा बना रहेगा, मगर विरोधी उभरते-सिमटते रहेंगे। साढ़ेसाती किसी न किसी पेचीदगी को जगाए रख सकती है, एहतियात रखें। 1 अक्तूबर को कामकाजी भागदौड़ बनी रहेगी, 2 से 4 अक्तूबर बाद दोपहर तक जमीनी कामों के लिए आपकी भागदौड़ अच्छा रिजल्ट देगी, 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक संतान सपोर्ट करेगी, यत्न करने पर योजनाबंदी में थोड़ी-बहुत पेशकदमी होगी, 6 शाम से 7 अक्तूबर तक किसी भी शत्रु की अनदेखी न करें।

धनु कोर्ट-कचहरी के कामों के लिए सितारा अच्छा, भागदौड़ बनी रहेगी मगर राहू की स्थिति सेहत के लिए ढीली बन गई है, एहतियात रखें। 1 अक्तूबर को कारोबारी दशा अच्छी, 2 से 4 अक्तूबर बाद दोपहर तक अपने कामों को निपटाने के लिए जो प्रयास करेंगे, उनकी अच्छी रिटर्न मिलेगी, 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक जमीनी तथा अदालती कामों में कदम बढ़त की तरफ, बड़े लोग भी मेहरबान रहेंगे, 6 शाम से 7 अक्तूबर तक आम हालात अनुकूल चलेंगे।

मकर वाहनों की सेल-परचेज या उन्हें डैकोरेट करने का काम करने वालों को अपने कामों में लाभ मिलेगा, मगर स्वभाव में गुस्से के कारण किसी के साथ झगड़े का डर रहेगा। 1 अक्तूबर को अर्थ दशा सुखद, सफलता साथ देगी, 2 से 4 अक्तूबर बाद दोपहर तक आमदन वाला सितारा अच्छा, अर्थ दशा कंफर्टेबल रहेगी, 4 अक्तूबर बाद दोपहर से 6 शाम तक मित्र तथा सज्जन-साथी मेहरबान रहेंगे, मान-यश की प्राप्ति, 6 शाम से 7 अक्तूबर तक समय कामयाबी तथा बेहतरी करने वाला।

कुंभ
धन-लाभ के लिए सितारा अच्छा, कारोबारी टूरिंग लाभप्रद, कामकाजी भागदौड़  बनी रहेगी, मगर घरेलू मोर्चा पर तनातनी बनी रह सकती है। 1 अक्तूबर को खर्चों का जोर, नुक्सान का डर, मगर 2 से 4 बाद दोपहर तक व्यापार तथा कामकाज की दशा अच्छी, सफलता साथ देगी, 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक धन-लाभ वाला समय अच्छा, यत्न करने पर कोई कारोबारी मुश्किल हटेगी, 6 शाम से 7 अक्तूबर तक उत्साह, हिम्मत तथा यत्न शक्ति बनी रहेगी।

मीन
व्यापार-कारोबार के कामों में लाभ देने तथा आम कामों को संवारने वाला सितारा मगर बेगानी जिम्मेदारी व झमेलों में फंसने से बचना चाहिए। 1 अक्तूबर को आमदन वाला सितारा, अर्थ दशा कंफर्टेबल रहेगी, 2 से 4 अक्तूबर बाद दोपहर तक किसी न किसी पेचीदगी के जागने, नुक्सान होने तथा टैंशन के उभरने का डर रहेगा, मगर 4 बाद दोपहर से 6 शाम तक कारोबारी दशा सुधरेगी, यत्नों-प्रोग्रामों में कामयाबी मिलेगी, फिर 6 शाम से 7 अक्तूबर तक समय धन-लाभ तथा कारोबारी टूरिंग के लिए बढिय़ा।