गुजरात के वड़ोदरा से एक वीडियो तेजी से वायरल हुआ है. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि नगरपालिका पार्षद हंसमुख पटेल पेड़ से बंधे हुए हैं और गुस्साई भीड़ उनकी पिटाई कर रही है. हालांकि बाद में पुलिस ने उन्हें छुड़वाया. इस मामले में करीब 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पटेल पर हमला करने वाले स्थानीय लोग हैं. लोगों का आरोप है कि बिना नोटिस दिए ही उनके घर ढहा दिए गए. जब लोगों के एक समूह ने वड़ोदरा नगरपालिका आयुक्त के कार्यालय में संपर्क किया गया तो संबंधित अधिकारियों ने बताया कि उनके स्थानीय नगर पार्षद हंसमुख पटेल को नोटिस भेजा गया है.




इससे भड़के लोगों ने पटेल को घेर लिया. लेकिन पटेल ऐसा कोई भी नोटिस मिलने इनकार करते रहे. इस पर गुस्साए लोगों ने उन्हें पेड़ से बांध दिया उन्हें प्रताड़ित करने लगे.

भीड़ बार-बार उनसे पूछती रही कि आखिर उन्होंने इस नोटिस के बारे में स्थानीय लोगों को चेतावनी क्यों नहीं दी. जबकि पटेल कहते रहे कि उन्हें इस तरह का कोई भी नोटिस नहीं मिला है. हालांकि नगरपालिका का कहना है कि जितने भी इमारतों को ढहाया गया है वो अवैध थीं.