चंडीगढ़।  13 अक्तूबर को मंडल नंबर-3 के चुनाव के दौरान जो कुछ भी पार्टी कार्यालय कमलम में हुआ उसकी शिकायत अब भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के पास जाएगी। इसके साथ ही भाजपा, चंडीगढ़ के सीनियर लीडर्स ने पार्टी प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन के खिलाफ खुले तौर पर मोर्चा खोल दिया है। इसी सिलसिले में भाजपा के कुछ टॉप लीडर्स की एक मीटिंग वीरवार को हुई। जिसमें पूर्व सांसद सत्यपाल जैन, हरमोहन धवन, यशपाल महाजन और धर्मपाल गुप्ता ने भाग लिया।

मीटिंग के दौरान सभी लीडर्स ने फैसला लिया कि इन दिनों चल रहे भाजपा के मंडल चुनावों के दौरान जो भी धांधलियां हो रही हैं उसकी पूरी रिपोर्ट हाई कमान के पास भेजी जाएगी। यही नहीं, कुछ नेताओं ने तो यहां तक कह दिया कि संजय टंडन अपने घर में बैठकर ही चुनाव करवा रहे हैं और नतीजे भी घोषित कर रहे हैं। पूर्व सांसद और पार्टी के वरिष्ठ नेता हरमोहन धवन ने कहा कि टंडन अन्य सभी पार्टी लीडर्स को बेवकूफ समझ रहे हैं। 

 
 'किरण को भी नहीं पूछते टंडन'
धवन ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ-साथ टंडन ने चुनावी प्रक्रिया के मामले में सांसद किरण खेर तक को नहीं पूछा। धवन ने कहा कि जो कुछ भी यहां हो रहा है वह गलत है।
 
टंडन ने अपने उपर लगे आरोपों का ये दिया जवाब
अपने ऊपर लगाए गए आरोपों पर टंडन ने तीखी प्रतिक्रिया दी। टंडन ने कहा कि कोई भी भाजपा का कार्यकर्ता कुछ भी लिख सकता है, लेकिन उसके लिए किसी को मीडिया में जाने की आवश्यकता नहीं है। जहां तक चंडीगढ़ में चुनाव के मामले हैं वह पूरी तरह से लोकतांत्रिक ढंग से किए जा रहे हैं। जिन लोगों ने प्राइमरी और एक्टिव मैंबरशिप करते समय ध्यान नहीं दिया उन्हीं को यह सारा दर्द महसूस हो रहा है।