राजस्थान के सीकर जिले के खंडेला कस्बे में बुधवार को एक घर में पटाखे बनाते हुए धमाका हो गया. इस धमाके में दो बच्चियों के चिथड़े उड़ गए तथा घर की दो महिलाएं बुरी तरह जख्मी हो गईं.

हादसे के वक्त चारों तरफ धुआं ही धुआं फैल गया. धमाके का सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और घायलों को खंडेला चिकित्सालय पहुंचाया. जानकारी के अनुसार धमाके वाले घर में परिवार दीपावली के लिए पटाखे बना रहा था. अज्ञात कारणों से बारूद में आग लग गई और हादसा हो गया. सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों शवों को मोर्चरी में रखवाते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है.

बता दें कि तीन पहले प्रदेश के बीकानेर में शहर में भी एक पटाखा फैक्ट्री में हादसा हुआ था. तब हादसे में 7 लोगों ने दम तोड़ा था.

शहर की तंग गली में हुए इस भीषण अग्निकांड में सात लोगों की मौत और एक दर्जन लोग घायल हुए थे. वहीं दूसरी ओर पुलिस ने डूडी सिपाहियां मोहल्ले में संचालित हो रही इस अवैध फैक्ट्री के संचालक कैलाश पारिक को गिरफ्तार किया गया था. फैक्ट्री संचालक कैलाश पारिक पर नयाशहर पुलिस ने संगीन धाराओं में मामला दर्ज किया गया था.