घर में घरेलू काम करने वाली एक 12 वर्षीय बच्ची मालकिन के टॉर्चर से इतना परेशान हो गई कि उसने जान देने के लिए 11वीं मंजिल से ही छलांग लगा दी. लेकिन कहते हैं न कि ‘जाको राखे साइंया, मार सके न कोय’. ऐसा ही कुछ इस बच्ची के साथ भी हुआ.

11वीं मंजिल से छलांग लगाने के बाद ये बच्ची नौंवी मंजिल पर लगे एक जाल में अटक गई. फ्लैट मालिक उस वक्त जाल के पास ही खड़ा था. उन्होंने तुरंत बच्ची को पकड़कर अंदर कर लिया.

बच्ची के शरीर को देखकर उनके रौंगटे खड़े हो गए. दुबली-पतली से बच्ची का पूरा शरीर जगह-जगह से जला हुआ था. ऐसा लग रहा था मानो उसे किसी गर्म चीज से दागा गया है. पूछताछ में बच्ची ने बताया कि वह बिहार की रहने वाली है.

ये घटना फरीदाबाद के सेक्टर 37, कनिष्का अपार्टमेंट की है. बच्ची 11वीं मंजिल पर बीटेक चौथे साल की छात्रा स्नेह सिंह के यहां काम करती है. स्नेहा भी पटना की रहने वाली है. बच्ची का आरोप है कि उसे भरपेट खाने को नहीं दिया जाता है.

बात-बात पर उसे मारा जाता है. उसे घर से बाहर नहीं जाने दिया जाता है. मामले की जानकारी पुलिस को दे दी गई है. पुलिस ने स्नेहा को हिरासत में ले लिया है.