भीलवाड़ा जिले के शाहपुरा के बिरदीचंद मोची का शव सऊदी अरब से करीब ढाई महीने बाद आज शाहपुरा पहुंचा. सउदी के रियाद से विमान के द्वारा शव बुधवार को रात जयपुर हवाई अड्डा पहुंचा.

शव के शाहपुरा पहुंचने पर परिजनों का रो रोकर बुरा हाल हो गया. जीनगर समाज की ओर से अंत्येष्ठि की तैयारी कर मृतक बिरदीचंद मोची का अंतिम संस्कार उदयभान गेट बाहर स्थित मोक्षधाम में कर दिया गया है. बिरदीचंद फरवरी 2017 में मजदूरी करने के लिए सऊदी अरब गया था पर वहां पर तबीयत बिगड़ने से 15 जुलाई को उसकी मौत हो गई. दूतावास से क्लिरियेंस न मिलने और शव लाने के खर्च का इंतजाम न होने के कारण शव को भारत लाने में देरी हुई.

परिवार को भी एक पखवाड़े के बाद जानकारी मिली तो भारतीय दूतावास सहित विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनोर तथा विदेश मंत्रालय की अवर सचिव दीप्ति जैरवाल, जीनगर समाज के प्रांतीय पदाधिकारी दुर्गाशंकर गहलोत के प्रयासों से शव को ढाई महीने बाद शाहपुरा लाया जा सका.

सउदी अरब दुतावास से क्लिरियेंस मिलने के बाद बुधवार को शव सउदी से ईथाड एयरलाईन्स की फ्लाईट नंबर ईवाई-208 से जयपुर हवाई अड्डे पर देर शाम पहुंचा दिया गया. बिरदीचंद के परिवार की माली हालत ठीक न होने के कारण जयपुर से शाहपुरा शव लाने की जिम्मेदारी शाहपुरा श्याम सेवा समिति ने ली.