राजस्थान में पहली बार किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मिड टर्म इंश्योरेंस मिलेगा. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के निर्देश पर बाढ़ से प्रभावित चार जिलों पाली, जालौर, सिरोही और बाड़मेर के किसानों को फसल बीमा का मिड टर्म लाभ दिया गया है.

मिड टर्म इंश्योरेंस का लाभ देने के लिए कृषि विभाग द्वारा 105 करोड़ 42 लाख रुपए की स्वीकृति जारी कर दी गई है और जल्दी ही प्रभावित किसानों के खातों में राशि पहुंचेगी.

कृषि मंत्री डॉ. प्रभुलाल सैनी का कहना है कि 50 प्रतिशत से ज्यादा खराबा वाली फसलों पर प्रीमियम की 25 प्रतिशत राशि का भुगतान किसानों को किया जा रहा है और क्रॉप कटिंग के बाद शेष राशि का भुगतान किसानों को किया जाएगा.

इन चारों में जिलों में खरीफ 2017 के तहत 15 लाख हैक्टेयर क्षेत्र में अतिवृष्टि से फसलें तबाह हुई हैं. तीन अलग-अलग बीमा कम्पनियों द्वारा इन जिलों में 10 लाख 62 हजार पॉलिसी की गईं थी. जिन्हें मिड टर्म इंश्योरेंस का लाभ मिल सकेगा.

बाड़मेर जिले के किसानों को 60 करोड़ 20 लाख, सिरोही जिले के किसानों को 31 करोड़ 38 लाख और पाली और जालौर जिले के किसानों को 42 करोड़ की राशि मिड टर्म के रुप में मिलेगी.