बिलासपुर। बिलासपुर में नशीली टाफियों से बच्चों के बीमार होने की घटना के बाद पेंड्रा में सड़क किनारे एक्सपायरी चाकलेट मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने चाकलेट जप्त कर लिया है।
गौरतलब है कि बिलासपुर से लगे अमेरी स्कूल में अज्ञात व्यक्ति द्वारा चॉकलेट बांटने के बाद बच्चों के बीमार होने के बाद शहर सहित आसपास के लोगों में भय का माहौल है। इससे पहले खमतराई में भी दर्जन भर से ज्यादा बच्चे बीमार हो गये थे। शहर से लगे क्षेत्र में हो रही इस तरह की घटनाओं के बाद आज पेंड्रा क्षेत्र में सड़क किनारे डिब्बा भर चॉकलेट लावारिस हालत में मिलने से सनसनी फैल गई। चॉकलेट डिब्बा सहित पेंड्रा-गौरेला रोड में पड़ा था।
शहर में हो रही घटनाओं के बाद वनांचल में लावारिस चॉकलेट मिलने से सड़क पर भीड़ जुटनी शुरु हो गई। बढ़ती भीड़ के बीच किसी ने घटना की सूचना पेंड्रा पुलिस को दी। संदिग्ध चॉकलेट की सूचना पर पहुंची पुलिस ने आसपास पूछताछ के बाद चॉकलेट जप्त कर लिया है। जप्त चॉकलेट एक्सपायरी डेट का बताया जा रहा है।


सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों में सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं
 युवा कांगे्रस ने कराया ध्यान आकृष्ट
बिलासपुर
। जिले में सरकारी एवं गैर सरकारी स्कूलों में सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं। इसे लेकर युवक कांगे्रस ने विरोध दर्ज कराया है। हाल ही में सरकंडा के बहतराई स्कूल एवं अमेरी प्राथमिक शाला के बच्चों को नशीला चॉकलेट खिलाने से छात्रों की हालत बिगडऩे का मामला सामने आया है। इसके बावजूद शिक्षा विभाग इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। इन्हीं मुद्दों को लेकर युवक कांग्रेस प्रदेश सचिव जावेद मेमन के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने कलेक्टर, एसपी और शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। जिले में स्कूल व कालेज में पढऩे वाले छात्र-छात्राओं की सुरक्षा को लेकर स्कूल प्रबंधन तथा शिक्षा विभाग द्वारा सुरक्षा के कोई उपाय नहीं किये गये हैं। हाल ही में जिले की तीन स्कूलों में अज्ञात तत्वों द्वारा चॉकलेट व पिपरमेंट में जानलेवा नशीला पदार्थ मिलाकर बच्चों को खिलाने की घटना सामने आई है। 4 अक्टूबर को अमेरी स्कूल में एक व्यक्ति द्वारा पहली से कक्षा चौथी तक पढऩे वाले विद्यार्थियों को प्रसाद बताकर पिपरमेंट में जहरीली दवा खिला दिया गया, जिसके खाने से स्कूल में ही बच्चे बेहोश होने लगे। बच्चों की बिगड़ती तबियत को देखते हुये तत्काल उन्हें सिम्स में भर्ती किया गया था। इसके पहले सरकंडा थाना क्षेत्र के बहतराई स्कूल में बच्चों को चॉकलेट में नशीली दवा दी गई थी। अभी तक नशीली दवा खिलाने वाले व्यक्ति तथा आरोपियों को पुलिस नहीं पकड़ पाई है। युवक कांगे्रस ने मांग की है कि बच्चों को नशीली दवा खिलाने वाले आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाये। प्रत्येक स्कूलों में सुरक्षागार्ड की तैनाती के साथ साथ सीसीटीवी कैमरा की व्यवस्था की जाये तथा सप्ताह में एक बार जिला प्रशासन तथा शिक्षा विभाग के अधिकारी स्कूलों का औचक निरीक्षण करें। सभी स्कूलों में प्रवेश द्वार तथा सुरक्षा के लिये बाउंड्रीवाल का निर्माण किया जाये। स्कूलों की जनभागीदारी समिति तथा स्कूल प्रबंधन को तत्काल सुरक्षाकर्मी तैनात करने की कार्रवाई की जाये। स्कूल आने जाने वाले सभी की जानकारी ली जाए। यदि जिला प्रशासन इस पर तत्काल अमल नहीं करता है तो युवक कांगे्रस आंदोलन के लिये बाध्य होगी।