मध्य प्रदेश के बैतूल में कर्ज से परेशान एक और किसान ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली.
आठनेर ब्लाक के चकोरा में रहने वाले किसान पंजू कुमरे ने कल देर रात अपने घर पर कीटनाशक पी लिया. परिजन किसान को गंभीर हालत में पहले आठनेर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए जहां हालत गंभीर होने पर उसे जिला अस्पताल लाया गया, उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

किसान पंजू पर बैंक का दो लाख रुपये कर्ज था. जिसे वह चुका नही पा रहा था. करीब आठ एकड़ की खेती का मालिक पंजू दो बच्चों का पिता था. उसने पांच साल पहले किसान क्रेडिट कार्ड के जरिये दो लाख का कर्ज लिया था. पिछले चार साल से लगातार खराब हो रही फसलों के चलते वह कर्ज की किश्तें नही चुका पा रहा था.

इस बार भी उसने कर्ज लेकर सोयाबीन का बीज बोया था लेकिन बारिश न होने से यह फसल भी खराब हो गयी. जिसके चलते वह तनाव में था. बीती रात उसने परिजनों से कर्ज के तनाव का जिक्र किया था.

मृतक की पत्नी सुशीला और भाई रमेश ने भी पंजू के कर्ज से परेशान होकर जान देने की पुष्टि की है. पुलिस ने मर्ग कायम कर शव परिजनों को सौप दिया है. मृतकों के परिजनो के पास शव को गांव तक ले जाने और उसकी अंत्येष्टि करने तक के लिए रुपये नही थे.

इसकी जानकारी मिलते ही बैतूल विधायक ने न केवल शव वाहन भिजवाया बल्कि परिजनों को अंत्येष्टि के लिए मदद भी की. बैतूल में बीते दो साल में आधा दर्जन से ज्यादा किसान मौत को गले लगा चुके है जबकि कई आत्महत्या की नाकाम कोशिशें कर चुके है.