मध्य प्रदेश के सागर में पिछले कई दिनों से चल रहे अवैध हथियारों के खरीद फरोख्त के बीच में पुलिस ने हथियारों का जखीरा बरामद किया है.

पुलिस ने अपराधी राजेश प्यासी और अंकित मिश्रा से पिस्टल और रिवाल्वर जब्त किए और 40 जिंदा कारतूस जब्त किए. इनसे खरीदने वाले योगेंद्र वर्दियां से भी एक पिस्टल और पांच कारतूस जब्त किए. खरगोन से लाकर यहां अवैध हथियार बेचे जा रहे थे. कोतवाली पुलिस ने यह कार्यवाही की है.

पुलिस अधीक्षक सत्येन्द्र शुक्ला ने आज मीडिया के सामने हथियारों के कारोबार का खुलासा किया. दरअसल, शहर में अवैध हथियारों की तस्करी की खबरें पुलिस को मिल रही थी. इस पर अंकुश लगाने एसपी ने एक टीम बनाई. कोतवाली पुलिस ने राजेश प्यासी और अंकित मिश्रा को पकड़ा.

पुलिस ने इनके पास से छह पिस्टल,एक रिवाल्वर ,एक देशी कट्टा और 40 कारतूस जब्त किए. इन्होंने कई लोगो को हथियार बेचे है, जिनको पुलिस तलाश रही है. एक खरीददार योगेंद से एक पिस्टल और पांच जिंदा कारतूस जब्त किए.

पुलिस ने इनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. ये बदमाश खरगोन जिले सिनगुन निवासी मोहन सिंह से हथियार खरीदकर यहां बेच रहे थे. 10 से 15 हजार रुपये में खरीदकर 20 से 25 हजार रुपये तक मे बेच रहे थे. पुलिस ने इनको रिमांड पर लेलिया है. इनसे पूछताछ जारी है.