इंदौर पहुंचे केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने 160 करोड़ की लागत से इंदौर के आसपास बनने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों का शिलन्यास किया. उनके साथ लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन भी मौजूद थीं.

गडकरी ने कहा कि काम में देरी ले लिए अधिकारी जिम्मेदार हैं और उनका माइंड अभी सेट नहीं है कि काम को जल्दी करना चाहिए. लेकिन मै वादा करता हूं कि सभी को जल्दी काम करना सिखा दूंगा.

उन्होंने कहा कि अधिकारी पुराने तरीके से काम करते हैं. अब समय बदल गया है और अधिकारियों को मैं जल्द सुधार दूंगा. हालाकि उन्होंने यह भी कहा कि अधिकारियों की गलती नहीं है, उनके काम करने की गति बहुत धीरे है. इनको सुधारना हमारा काम है.

केन्द्रीय मंत्री ने यह साफ किया कि देश का इंफ्रास्ट्रचर बदलने के लिए हमारे पास पैसों की कमी नहीं है. हम देश को तरक्की पर ले जाने के लिए हर सम्भव कोशिश कर रहे हैं. सरकार केवल गरीबों और मजदूरों ने लिए हर सम्भव प्रयास कर रही है और यदि देश को आगे बढ़ाना है तो हर किसी के पास रोजगार होना जरुररी है. जिस देश का इंफ्रास्ट्रचर मजबूत होगा उस देश को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता.

लोकसभा स्पीकर और इंदौर से सांसद सुमित्रा महाजन ने अपने उद्बोधन में कहा कि पहले के मंत्री के पास मैं कई बार गई थी लेकिन उन्होंने इंदौर बाईपास के लिए मेरी एक नहीं सुनी, लेकिन नितिन जी का काम करने का तरीका अलग है.