कांग्रेस की बैठक में बनी आम सहमति
रायपुर।
छत्तीसगढ़ प्रदेश का कांग्रेस अध्यक्ष कौन होगा इसका निर्णय कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी करेंगी। आज कांग्रेस भवन में हुई प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधियों की बैठक में इसे लेकर आम सहमति बन गई। इसके साथ ही प्रदेश कांग्रेस का चुनाव भी समपन्न हो गई है। प्रदेश कार्यसमिति ने पीसीसी अध्यक्ष चुनने का अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष को सौंप दिया है.कांग्रेस निर्वाचन अधिकारी रजनी पाटिल ने प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल, नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव सहित वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में नवनिर्वाचित प्रदेश प्रतिनिधियों की बीच आम सहमति बनाई।इस आम राय के बाद अब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ही जिला और ब्लॉक अध्यक्षों की घोषणा करेंगे। एक तरह से वर्तमान अध्यक्ष के नाम पर फिर से सहमति बन गई हैं। मतलब भूपेश बघेल ही कांग्रेस के अध्यक्ष बने रह सकते हैं।

भूपेश ही होंगे फिर पीसीसी चीफ?

भूपेश बघेल का दूसरी बार अध्यक्ष बनना तय हो गया है।  कांग्रेस के सूत्रों का कहना है, नाम का ऐलान सिर्फ औपचारिकता है। दरअसल, चुनाव अब करीब आ गया है। ऐसे में, अध्यक्ष बदलने पर काफी दिक्कतें जाएंगी। पार्टी नेताओं को 2008 का चुनाव भी याद है, जब चुनाव के छह महीना पहिले चरणदास महंत को हटाकर धनेंद्र साहू को अध्यक्ष बना दिया गया था। उसका परिणाम यह हुआ कि कांग्रेस चुनाव हार गई। भूपेश को अध्यक्ष बनाने के पीछे यह तर्क दिया जा रहा है कि भूपेश न केवल जुझारु नेता है। बल्कि, आक्र्रमक तेवरों से सरकार की नाक में दम किए हुए हैं।