लंदन। सोशल मीडिया लोंगों के लिए बहुत ममदगार साबित हो रहा है। फेसबुक कई बिछड़े लोगों को आपस में मिला चुका है। इस बार फेसबुक के कारण 60 साल पहले बिछड़े भाई-बहन का मिलन हुआ है। 83 साल की इडा वाइल्ड 60 साल बाद गोद लिए अपने बिछड़े भाई असगर पटेल से मिलीं तो खुशी का कोई ठिकाना न रहा। मुलाकात की खुशी तो थी ही साथ ही भाई की कामयाबी ने उनके दिल को बाग-बाग कर दिया।

78 साल का उनका भाई दुनिया के सबसे कामयाब लोगों में शामिल हो चुका था। असगर ने फेसबुक पर शादी की एक तस्वीर देखकर इडा को पहचाना और अगस्त में फेसबुक के जरिए ही उनसे संपर्क किया। फिर भाई-बहन की यह भावुक मुलाकात हुई। इडा के मुताबिक उनके परिवार ने भारत-पाकिस्तान विभाजन के बाद असगर और उनकी एक बहन की देखभाल की थी क्योंकि उस वक्त उनके पिता शकूर हसन पटेल उनका पालन करने में सक्षम नहीं थे। विभाजन ने उन्हें आर्थिक रूप से तबाह कर दिया था। बचपन में पांच साल तक इडा और असगर साथ-साथ पले बढ़े। पर बाद में असगर स्काटलैंड के ग्लासगो स्थित घर को छोड़कर भारत लौट गए थे। वहां जाकर उन्होंने शानदार कॅरियर बनाया।  

इस साल फोर्ब्स ने सबसे अमीर 100 भारतीयों की सूची में उन्हें 45वें स्थान पर जगह दी थी। इडा कहती हैं कि असगर के जाने के बाद पूरे परिवार का दिल टूट गया था। उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि असगर से उनकी कभी मुलाकात होगी। पर किस्मत उन्हें मिलाने वाली थी। असगर ने इडा को बताया कि उन्होंने कई साल तक उन्हें गोद लेने वाले इस स्कॉटिस परिवार की खोज की लेकिन उन्हें कुछ पता नहीं चल सका।

ब्रिटेन से लौटकर असगर ने मुंबई के सफल उद्योगपति बन चुके अपने पिता शकूर हसन पटेल के साथ काम नहीं किया, बल्कि खुद सेल्समैन, स्टेनोग्राफर से लेकर सेक्रेटरी तक की नौकरी की। उसके बाद फिर 1959 में अपनी कंपनी पटेल रोडवेज लिमिटेड की शुरुआत की। आज उनकी कंपनी का बिजनेस भारत, ब्रिटेन के साथ ही मध्यपूर्व तक फैला है। उनके पास करीब चार हजार करोड़ की संपत्ति है। उनकी कंपनी पटेल रोडवेज एशिया की सबसे बड़ी लॉजिस्टिक कंपनियों में से एक है।