इस्लामाबाद। पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनके परिजनों के भ्रष्टाचार की जांच कर रहे राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो(एनएबी) ने उनके दोनों पुत्रों हसन नवाज तथा हुसैन नवाज को भगौड़ा घोषित करते हुए उनके खिलाफ वारंंट जारी किए हैं।

मीडीया रिपोर्ट के मुताबिक न्यायालय ने इन दोनों को भगौड़ा घोषित करने संबंधी याचिका को स्वीकार करते हुए वारंट जारी किए और उनके मामले को शरीफ परिवार के अन्य सदस्यों से भी अलग कर दिया है। इससे पहले न्यायालय की तरफ से इन दोनों को पेश होने के लिए बार बार सम्मन जारी किए थे।

उसके बाद फिर गिरफ्तारी के लिए गैर जमानती वारंट जारी किए गए थे। इतने पर भी इनके पेश नहीं होने पर  ब्यूरों  अधिकारियों ने इन्हें भगौड़ा घोषित करने के लिए एक याचिका दायर की थी।  न्यायालय ने इन दोनों को भगौड़ा घोषित करने संबंधी आदेश को समाचार पत्रों में प्रकाशित करने के भी निर्देश दिए हैं।