गुजरात में पेट्रोल और डीजल पर वैट की दर चार प्रतिशत घटाने के बाद मध्य प्रदेश के वित्त मंत्री जयंत मलैया का बयान आया है. जयंत मलैया के मुताबिक गुजरात में चार फीसदी वैट की कमी की गई है लेकिन मध्य प्रदेश को अभी 1-2 दिन और इंतज़ार करना पड़ेगा.

मुद्रा लोन के हितग्राहियों को चेक वितरण करने के लिए राजधानी भोपाल के मोतीलाल नेहरु स्टेडियम पहुंचे जयंत मलैया ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि संभावनाओं पर दुनिया टिकी है, और किसी भी संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता. हालांकि वैट के मामले में साफ तौर पर मलैया ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया.

उल्लेखनीय है कि हाल ही में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सभी राज्यों से ईंधन पर स्थानीय कर घटाने के लिए कहा था, जिसके बाद चुनाव के लिए तैयार गुजरात में इस पर वैट की दरें कम की गई हैं. हाल ही में केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर दो रुपये प्रति लीटर की दर से उत्पाद शुल्क कम किया था.

चुनाव की आहट के पहले तोहफा

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी ने कहा कि राज्य सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर 4% वैट कम करने का निर्णय किया है. ईंधन की कीमतों में यह कमी दिवाली से मात्र कुछ दिन पहले की गई है. राज्य में इसी साल के अंत तक विधानसभा चुनाव भी होने हैं.

रुपानी ने कहा, 'केंद्र सरकार के निर्देशों के बाद गुजरात सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर 4% वैट कम करने का निर्णय किया है. नई कीमत आज रात मध्यरात्रि से प्रभावी होंगी.'

उन्होंने कहा कि इसके बाद राज्य में पेट्रोल की कीमत 2.93 रुपये घटकर 66.53 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 2.72 रुपये कम होकर 60.77 रुपये प्रति लीटर हो जाएगी.

इससे राज्य के खजाने को 2,316 करोड़ रुपये वार्षिक नुकसान होगा. हालांकि, इस पर रुपानी ने कहा कि उन्होंने यह फैसला लोगों के हित में किया है.