ल्यूबो: डैमोक्रेटिक रिपब्लिक आफ कांगो में एक महिला से सरेआम दुष्कर्म किया गया, कोड़ों से पीटा गया और यह सब देख रही भीड़ के सामने उसका सिर कलम कर दिया गया। महिला पर आरोप था कि उसने सरकार विरोधी विद्रोहियों के एक समूह को ‘मछली’ खिलाई थी। हैवानों ने बाद में उस महिला का खून भी पीया। हैवानियत के इस नंगे नाच को विद्रोहियों ने अंजाम दिया और तमाशबीनों की भीड़ इस दौरान जश्न मनाती रही।

घटना इसी साल अप्रैल की है लेकिन उसका वीडियो अब व्हाट्सएप पर धड़ल्ले से शेयर किया जा रहा है। बताया जा रहा कि भीड़ ने पहले जबरन सौतेले बेटे को मां से रेप करने को मजबूर किया और फिर उनको सरेआम कत्ल कर दिया। मां-बेटे की लाश को दो दिनों तक वहीं प्रदर्शनी के लिए छोड़ दिया गया ताकि सभी को संदेश जाए। महिला ने अपने रैस्टोरैंट में विद्रोहियों के एक समूह को मछली परोसी थी, जिसे वह वर्जित मानते हैं।