इस्टर्न कॉप: एक महिला ने उसकी बेटी बलात्कारियों को 3 किलोमीटर तक पीछा करने के बाद चाकुओं से गोदकर एक की हत्या व अन्य दो को घायल कर दिया। इस मामले साउथ अफ्रीका के इस्टर्न कोप प्रांत की मजिस्ट्रेट ने महिला को आरोपों से बरी कर दिया। जबकि महिला के आक्रमण से घायल हुए अन्य दो आरोपियों बलात्कार के आरोप में मुकदमा चलेगा। पीड़िता की मां ने बताया, ‘मैं उन्हें पकडऩे के लिए करीब तीन किमी तक दौड़ती रही। इस दौरान में लगातार पुलिस को फोन भी किया लेकिन किसी ने फोन नहीं उठाया। इसपर मैंने किचन से चाकू उठाया और बलात्कारियों के पीछे दौड़ी।’

खबर के इस अनुसार इस हमले में जमाइल सियाका की मौत हो गई जबकि अन्य दो आरोपी जोलीसा सीयाका और म्नेस्सिसी वूबा को गंभीर हालत में हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। सूत्रों के अनुसार उन दोनों की हालत भी नाजुक बताई जा रही है। आरोपी की मौत के पीड़िता की मां ने बताया कि मैं अपनी बेटी की सुरक्षा करना चाहती थी। हालांकि मुझे विश्वास नहीं हुआ कि मैंने जिन लोगों पर हमला किया उनमें से एक की मौत हो गई है। शख्स की मौत से मैं वाकई दुखी हूं। इसी कारण वास्तव में मुझे आध्यात्मिक रूप से मार रही है। मुझे उम्मीद है कि सामाजिक कार्यकर्ता मेरे लिए सुरक्षित स्थान खोजेंगे ताकि मेरी बेटी की पढ़ाई हो सके।