राजस्थान में एक चीनी कंपनी में भारतीय लड़कियों और इंजीनियरों के साथ बदसलूकी का चौंकाने वाला मामला सामने आया है. कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों ने गुरुवार को कंपनी प्रबंधन पर खुलेआम ये आरोप लगाए हैं.

चीन की यह कंपनी लियॉक ट्रोनटैक बैटरी प्राइवेट लिमिटेड प्रदेश के अलवर जिले के भिवाड़ी में स्थित है. कंपनी पर भारतीय महिला वर्करों के साथ पुरुषों को बेइज्जत किए जाने के आरोप लगे हैं. ज्यादतियाें से परेशान वर्करों ने कंपनी के गेट के बाहर विरोध प्रदर्शन करते हुए ये आरोप लगाए हैं. हालांकि इस पूरे घटनाक्रम के बाद भी कंपनी की ओर से अभी तक कोई प्रतिक्रिया या बयान जारी नहीं किया गया है.

जबरन डांस करवाते हैं... मना करें तो उठक-बैठक

कंपनी वर्कर्स का कहना है कि जिस दिन कंपनी में अधिक काम नहीं होता है तब उनसे जबरन डांस करवाया जाता है. बॉलीवुड आइटम सॉन्ग्स पर न चाहते हुए भी मजबूरन सबके सामने ठुमके लगवाए जाते हैं. इसकी रिकॉर्डिंग की जाती है. ऐसा नहीं करने पर मैनेजर उठक-बैठक लगवाने को कहते हैं. और विरोध करने पर कंपनी से निकालने की धमकी देते हैं.

इंजीनियर से लगवाते हैं पुश-अप्स, कंधे में दर्द के बाद भी प्रताड़ना

कंपनी के भारतीय कर्मचारियों पर प्रताड़ना का आलम ये है कि इंजीनियर्स से काम नहीं होने पर दंड-बैठक यानि पुश-अप्स लगाने को कहा जाता है. कंपनी में कार्यरत ओमकार नाथ ने बताया कि इंजीनियरों तक से कंपनी के अधिकारी दंडबैठक लगवाते हैं. ऐसा नहीं करने पर कंपनी से बाहर करने की धमकियां दी जाती हैं. एक वर्कर ने कंधे में दर्द होने की वजह से पुश-अप्स के लिए मना किया तो उसे हाल ही ऐसी ही धमकी दी गई थी.

कंपनी के वर्करों के साथ बदसलूकी की बात सामने आई है. जानकारी करवाई है. ऐसा पाया जाता है कंपनी पर कार्रवाई की जाएगी.
श्रीचंद कृपलानी, यूडीएच मंत्री, राजस्थान



बंद होने के कगार पर चीनी कंपनी?
 
जानकारी के अनुसार भिवाड़ी के यूआईटी थाना क्षेत्र के कहरानी में स्थित लियॉक ट्रोनटैक बैटरी प्राइवेट लिमिटेड की हालत ठीक नहीं है. कंपनी आर्थिक स्थित खराब चल रही है और कर्मचारियों को पिछले महीने का वेतन भी नहीं दिया गया है. कंपनी कर्मचारियों के अनुसार कंपनी की यह इकाई भारत और
चीनी की पार्टनरशिप से चलती है.