मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के शारदा विहार आवासीय विद्यालय में गुरुवार से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की तीन दिवसीय अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक शुरू हो गई है.

मंडल की साल में दो बार मार्च और अक्टूबर में बैठक होती है. इस 'दिवाली' बैठक में संघ के पिछले छह माह और आगामी गतिविधियों व देश की वर्तमान स्थिति पर चर्चा होगी.

संघ की बैठक का विधिवत शुभारंभ संघ प्रमुख मोहन भागवत और अन्य पदाधिकारियों ने दीप प्रज्जवलित कर किया. यह बैठक 14 अक्टूबर तक चलेगी. इस बैठक में 11 क्षेत्रों के अधिकारी और 42 प्रांतों के प्रचारक हिस्सा ले रहे हैं. कुल मिलाकर 300 प्रतिनिधियों की उपस्थिति का अनुमान है.

आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के अनुसार, इस बैठक में वनवासी कल्याण आश्रम, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, विश्व हिंदू परिषद, किसान संघ, विद्या भारती और भाजपा के राष्ट्रीय के पदाधिकारी हिस्सा ले रहे हैं.

इस बैठक में केरल में भाजपा और आरएसएस के कार्यकर्ताओं पर हमले, रोहिंग्या मुसलमानों की स्थिति, केंद्र सरकार की उपलब्धियों, आगामी विधानसभा चुनाव पर गहन विचार मंथन के आसार हैं.