टेस्ट चैंपियनशिप और वनडे लीग को मंजूरी, आने वाले समय में कुछ इस तरह बदल जाएगा क्रिकेट

नई दिल्ली
आने वाले दिनों में क्रिकेट में कुछ बदला-बदला दिखेगा। क्रिकेट की सबसे बड़ी बॉडी आईसीसी ने शुक्रवार को ऑकलैंड में हुई अपनी बोर्ड मीटिंग में कुछ अहम फैसले लिए। इसमें टेस्ट चैंपियनशिप और वनडे लीग को हरी झंडी दे दी है। इसके अलावा आईसीसी ने इस बैठक में 4 दिवसीय टेस्ट मैच को भी ट्रायल के लिए मंजूरी दे दी है। नए नियमों के मुताबिक अब दो देशों के बीच खेली जाने वाली हर क्रिकेट सीरीज का असर बाकी टेस्ट टीमों पर भी पड़ेगा। हर मैच अहम होगा। जानिए आखिर क्रिकेट में क्या बदलने वाला है...

1. अभी तक हर सीरीज के बाद टीमों को जो पॉइंट्स मिलते हैं, उन पॉइंट्स के आधार पर उनकी बस रैंकिंग्स तय होती है। लेकिन इस निर्णय के बाद टीमों को रैंकिंग के आधार पर अलग-अलग चरण में बांटा जाएगा। इन रैकिंग्स के आधार पर इन टीमों को A, B, C ग्रुप में बांटा जाएगा।

2. टेस्ट चैंपियनशिप में ICC का यह निर्णय 2019 वर्ल्ड कप के बाद लागू होगा। ICC के इस फैसले के बाद टेस्ट चैंपियनशिप में 9 टीमें होंगी। प्रत्येक टीम 2 साल में 6 सीरीज खेलेगी। इनमें से 3 सीरीज वह अपने घर पर और बाकी की 3 सीरीज विदेशी धरती पर खेलेगी।

3. एक सीरीज में एक टीम को कम से कम 2 टेस्ट खेलने होंगे, जिसे 5 टेस्ट तक बढ़ाया जा सकता है। फिलहाल आईसीसी ने इस टेस्ट चैंपियनशिप में जिम्बाब्वे, आयरलैंड और अफगानिस्तान को शामिल नहीं किया है। सभी टेस्ट मैच 5 दिन के होंगे और आखिर में वर्ल्ड टेस्ट लीग चैंपियनशिप का फाइनल खेला जाएगा।

4. वहीं वनडे लीग की बात करें, तो आईसीसी का यह निर्णय 2020 में लागू होगा। इस लीग में कुल 13 टीमें होंगी। 12 टीमें आईसीसी की फुल मेंबर हैं, जबकि एक टीम आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट लीग चैंपियनशिप की विजेता होगी।

5. आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट लीग चैंपियनशिप में देश खेलते हैं, जो आईसीसी के पूर्ण रूप से सदस्य नहीं हैं, जैसे- न्यू पपुआ गिनी, कनाडा, नामिबिया, केन्या, नेपाल, हॉन्ग-कॉन्ग आदि देश। इस लीग में टीमें वर्ल्ड कप 2023 में क्वॉलिफाइ करने के लिए एक-दूसरे से भिड़ेंगी। 2023 वर्ल्ड कप से पहले इस वनडे लीग में 2 साल का सर्कल होगा। लीग के पहले सत्र में हर टीम चार घरेलू और चार विदेशी श्रृंखलायें खेलेगी जिसमें तीन तीन वनडे होंगे।

6. 2023 वर्ल्ड कप के बाद इस सर्कल को 2 से बढ़ाकर 3 साल का कर दिया जाएगा, जिसमें प्रत्येक टीम 8 वनडे सीरीज खेलेगी। इन 8 सीरीज में प्रत्येक टीम को 4 सीरीज अपने घर पर और 4 विदेश में खेलनी होंगी।

7. वनडे लीग से वर्ल्ड कप में सीधे प्रवेश मिलेगा, जो 12 पूर्ण सदस्य देशों और मौजूदा आईसीसी विश्व क्रिकेट लीग चैंपियनशिप विजेता के बीच खेली जाएगी।

8. आईसीसी बोर्ड ने विश्व कप 2019 तक चार दिवसीय टेस्ट के ट्रायल को मंजूरी दे दी। सदस्य देश आपसी समझौते के तहत 4 दिवसीय क्रिकेट खेल सकेंगे। अन्य फैसलों में नामीबिया को विश्व क्रिकेट लीग डिवीजन दो का मेजबान चुना गया है, जो फरवरी 2018 में होगी। वहीं नीदरलैंड आईसीसी महिला वर्ल्ड टी20 क्वॉलिफायर 2018 का मेजबान होगा।

आईसीसी चेयरमैन शशांक मनोहर ने एक बयान में कहा, 'मैं सभी सदस्यों को इस फैसले पर पहुंचने के लिए बधाई देता हूं। द्विपक्षीय क्रिकेट को मायने देना कोई बड़ी चुनौती नहीं थी, लेकिन पहली बार असल समाधान पर सहमति बनी है।' उन्होंने कहा, 'इसके मायने हैं कि दुनिया भर में क्रिकेटप्रेमी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का मजा ले सकेंगे और उन्हें पता होगा कि अब हर मैच महत्वपूर्ण है।'

आईसीसी के सीईओ डेविड रिचर्डसन ने कहा, 'आईसीसी बोर्ड के फैसले के मायने हैं कि हम पहले सत्र का कार्यक्रम और अंक व्यवस्था तय कर सकते हैं।' बता दें कि आईसीसी ने अभी इसकी पूरी रूपरेखा क्लियर नहीं है कि अंकों का बंटवारा कैसे होगा और किस तरह इन टीमों को चैंपियनशिप के लिए दावेदार माना जाएगा। आईसीसी इनके बारे में बाद में जानकारी देगा।