बिहार के नवादा में शव के साथ जानवर जैसा सलूक करने का मामला सामने आया है. शुक्रवार सुबह किउल-गया रेलखंड पर एक महिला शव का बरामद किया गया. शव को पोस्टमार्टम पहुंचाने के लिए जिले की कादिरगंज पुलिस अपने साथ 2 मजदूर लेकर पहुंची और शव के साथ अमानवीय तरीके से पेश आयी.

मजदूरों के सहयोग से महिला के शव को पुलिस के सामने बांस से बांधकर कंधे पर टांगकर दो मजदूरों के सहयोग तक गाड़ी तक पहुंचाया गया. तस्वीरों में शव ढ़ो रहे मजदूरों के पीछे एक पुलिसकर्मी साफ दिख रहा है. पुलिस को शव को उठाने के लिए स्ट्रेचर लाना चाहिए था लेकिन जानवर की तरह बर्ताव किया गया.

पूरे मामले पर सदर के एसडीपीओ विजय कुमार झा से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि मामले की जानकारी मिली है. मगर शव के साथ ऐसा व्यवहार किया गया है उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है.

उन्होंने कहा कि ट्रैक पर जाने के लिए कोई भी उचित माध्यम नहीं था. स्ट्रेचर के नहीं लाने के बारे में थानाध्यक्ष रणविजय ही बताएंगे. जांच के दौरान अगर इसमें जो दोषी पाया जाएगा कार्रवाई की जाएगी.