रायसेन, मध्यप्रदेश में हसीब हिंदुस्तानी नाम के शख्स बाइक खरीदने के लिए 57,000 रुपए की चिल्लर लेकर शोरूम पहुंच गए जिसको देख वहां मौजूद सभी लोग हैरान रह गए। इतने पैसों की चिल्लर देख शोरूम वाले ने पहले तो हसीब को मना कर दिया लेकिन फिर उसका किस्सा सुनकर शोरूम वाला मान गया और हसीब को उसकी मनपंसद बाइक हीरो स्पलेंडर दे दी।
 
एक, दो, पांच और दस रुपए के सिक्के लेकर शोरूम पहुंचे हसीब ने बताया था कि उसके परिवार में दस लोग हैं जो पिछले तीन सालों से वह बाइक खरीदने के लिए एक-एक पैसा जोड़ रहे थे। इतना सुनकर शोरूम डीलर की आंखों में आंसू आ गए थे।

इतनी सारी चिल्लर को गिनने के लिए लगभग पूरे स्टाफ को लगाना पड़ा और वे भी तीन घंटे में काम पूरा कर पाए। डीलर ने बताया कि हसीब 10 के 322 सिक्के, पांच के 1,458 सिक्के, दो के 15,645 सिक्के और एक के 14,600 सिक्के लेकर उनके पास पहुंचे थे।

मोदी से हुए थे प्रेरित

हसीब ने बताया कि उनको पैसे जोड़ने की प्रेरणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक स्पीच से मिली थी जिसमें उन्होंने छोटी-छोटी बचत करने की सलाह दी थी। हसीब के मुताबिक, तब से ही उनके परिवार वाले पैसे जोड़ रहे थे।

शोरूम वालों ने कहा कि सारी चिल्लर को बैंक में जमा करवा दिया जाएगा ताकि खुल्ले पैसों की कमी कुछ हद तक कम हो सके। हसीब मध्यप्रदेश के रायसेन शहर में एक दुकान चलाते हैं। वह गुरुवार (12 अक्टूबर) को अपने घर के पास वाले हीरो शो रूम पहुंच थे।