टेलिकॉम ऑपरेटर अगले महीने से आपको घर बैठे मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करने की सुविधा देने वाले हैं. लेकिन इसमें भी एक पेच है, जिसके बारे में कोई बात नहीं कर रहा है.घर बैठे ही मोबाइल नंबर को आधार कार्ड से लिंक करने की सुविधा भले ही अगले महीने से आ रही है, लेक‍िन एक वजह से आप इसे घर बैठे नहीं कर पाएंगे. कुछ लोगों को अपना मोबाइल नंबर आधार से लिंक करने के लिए एनरोलमेंट सेंटर जाना ही होगा.

आगे हम आपको बता रहे हैं कि कौन लोग घर बैठे मोबाइल नंबर को आधार कार्ड से  लिंक नहीं कर सकेंगे. इसके साथ ही  जानिये इसकी वजह और शर्त.

1 दिसंबर से आप अपने मोबाइल नंबर को आधार कार्ड से लिंक करने के लिए इन विकल्पों का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसमें आप ऑपरेटर की वेबसाइट या ऐप और  आईवीआरएस के जरिये कर सकते हैं.

घर बैठे आधार कार्ड को लिंक करने की इस नई व्यवस्था का फायदा उठाने के लिए जरूरी है कि आपका कम से कम एक मोबाइल नंबर आधार कार्ड से जुड़ा हो. क्योंकि इस प्रोसेस में मोबाइल नंबर पर 'वन टाइम पासवर्ड' आता है.

आधार अथॉरिटी ने साफ किया है कि नई व्यवस्था में घर बैठे मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करने के लिए आपके पास वह नंबर होना जरूरी है, जो आप ने अपने आधार नंबर के साथ रजिस्टर किया है.

अगर आपके पास रजिस्टर्ड  मोबाइल नंबर है, तो आप घर बैठे ही इस काम को निपटा सकेंगे, लेक‍िन अगर आपका आधार के साथ रजिस्टर किया हुआ नंबर खो गया है या फिर वह इस्तेमाल में नहीं है, तो एनरोलमेंट सेंटर जाना ही होगा.

दरअसल कोई भी नया नंबर आप घर बैठे आधार के साथ रजिस्टर नहीं कर सकते. इसके लिए फिलहाल ऑनलाइन अपडेट करने की सुविधा भी नहीं है.

ऐसे करें लिंक :ऐसे में आपको अपना मोबाइल नंबर आधार कार्ड डिटेल में अपडेट करना होगा. इसके लिए आपको पहचान पत्र दस्तावेज के साथ एनरोलमेंट सेंटर जाना होगा और वहां जाकर अपने नंबर को रजिस्टर करना होगा.

एक नंबर रजिस्टर होने के बाद आप अपने अन्य मोबाइल नंबर को घर बैठे आधार से लिंक कर सकेंगे, लेक‍िन कम से कम एक नंबर का आधार कार्ड से पहले से जुड़ा होना जरूरी है.