हो सकता है कि कफिंग सीजन के बारे में आपने ज्यादा न सुना हो लेकिन यह एक बहुत ही सामान्य प्रक्रिया है। सीधे शब्दों में कहें तो जब आपको सबसे ज्यादा किसी पार्टनर की जरूरत महसूस होने लगती है। हर सिंगल इंसान कभी न कभी साथी की जरूरत महसूस करता है लेकिन तापमान गिरने के साथ यह फीलिंग बढ़ जाती है।

इसलिए कह सकते हैं कि सर्दी के मौसम में खुशी से सिंगल लाइफ जी रहे लोग भी साथी की कमी महसूस करने लगते हैं। कभी-कभी यह फीलिंग परेशानी बन जाती है। अगर आप इस फीलिंग से उबरना चाहती हैं कफिंग सीजन को ऐसे डील करें...

हर किसी के पास ऐसे कामों की लिस्ट होती है जिन्हें वे करना तो चाहते हैं पर व्यस्तता के चलते नहीं करते। जैसे हो सकता है कि आप ब्लॉग लिखने के बारे में सोच रही हों या फिर कुछ अच्छा बनाने का प्लान कर रही हों या फिर कोई बुक पढ़ने वाली हों, यही अच्छा सीजन है, अपने अरमान पूरे करने का। जितना आप खुद को इंट्रेस्टिंग चीजों में बिजी रखेंगी, आपका उतना ही कम ध्यान अपने रिलेशनशिप स्टेटस पर जाएगा।

यह शायद सबसे कारगर तरीका है। सहेलियां के साथ होने से आपके हैपी हॉर्मोन्स रिलीज होते हैं। विंटर के लिए सारी फन ऐक्टिविटी की लिस्ट बनाएं जैसे- हॉट चॉकलेट डेट, सर्दियों की शॉपिंग या फिर साथ में कोई फिल्म देखना। अंग्रेजी में एक कहावत है, 'सिस्टर्स बिफोर मिस्टर्स'... बस इसी की तर्ज पर अच्छा टाइम बिताएं।

क्यों न कफिंग सीजन में दूसरी तरह से प्यार बांटा जाए। कफिंग सीजन के साथ आता है हॉलिडे सीजन। ऐसे में समाज को कुछ वक्त दें। ओल्ड एज होम जाकर कुछ बुजुर्गों से मिलें या छोटे अनाथ बच्चों को गिफ्ट्स दें। दूसरों की मदद करके आपको अच्छा महसूस होगा।

यह कई तरह से अच्छा है। एक तो इससे आसपास की फालतू चीजों से ध्यान हटता है। आप ट्रिप प्लान करने में काफी वक्त लगाती हैं जिसमें काफी एक्साइटमेंट होता है। अकेले ट्रैवल करने से आप खुद के बारे में बहुत सी बातें जान सकती हैं। इससे आपको यह भी अहसास होगा कि खुश रहने के लिए किसी पुरुष की ही जरूरत नहीं।