जबलपुर। मझौली के इंद्राना से लगे कोनीखुर्द के जंगल में 12 दिसंबर की रात हुई बुजुर्ग अदाली बर्मन (65) की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक बुजुर्ग की हत्या उसके रिश्तेदारों ने ही महज 1150 रुपए लूटने के लिए पत्थर से कुचलकर कर दी थी। छानबीन के दौरान पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। जिसके बाद दोनों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया गया।


जंगल में मिली थी अदाली की लाश


13 दिसंबर की सुबह अदाली बर्मन की लाश कोनीखुर्द के जंगल में मिली थी। मृतक के गुप्तांग में चोट के निशान थे। शव के पास एक पत्थर भी पड़ा था, जिसमें खून के निशान थे। मृतक के बेटे दशरथ ने पुलिस को जानकारी दी थी कि वह 11 दिसंबर को अपनी ससुराल में बरसी के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पत्नी अनीता और पिता अदाली के साथ गया था। लेकिन 12 दिसंबर की शाम उसकी पत्नी ही अकेली घर पहुंची थी। पत्नी ने पूछने पर बताया था कि पिता सुबह चाय पीने के बाद वापस नहीं लौटे थे, जिसके कारण वह समझी कि पिता घर पहुंच गए होंगे।


आसपास के लोगों से पूछताछ में आरोपियों का मिला सुराग


एएसपी ग्रामीण संजय साहू ने बताया कि घटना के बाद मृतक के परिजनों और आसपास के लोगों से पूछताछ की गई, तो पता चला था कि मृतक के साथ सुरेश गडारी और उसके भाई के साले के भाई राजेन्द्र उर्फ नंदकिशोर पाल को घर से जाते देखा था। पुलिस ने सुरेश और राजेन्द्र की तलाश की तो वे घर से गायब मिले। जिससे पुलिस का शक दोनों पर पुख्ता हो गया। शनिवार की शाम नेगई गांव में दोनों के होने की सूचना मिली तो पुलिस ने घेराबंदी कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।


शराब पिलाने के बाद रुपए लूटे फिर कर दी हत्या


आरोपी सुरेश और राजेन्द्र ने बताया कि वे लोग भी इंद्राना में बरसी कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। जहां उनकी मुलाकात अदाली बर्मन से हुई थी। अदाली ने उनके सामने अपनी धोती में नोट की गड्डी रखी थी। जिसके बाद दोनों ने मिलकर उसे लूटने का प्लान बनाया था। सुरेश और राजेन्द्र अदाली को शराब पिलाने के बहाने कोनीखुर्द के जंगल ले गए, जहां दोनों ने शराब पिलाने के बाद अदाली से मारपीट करके उसकी धोती में बंधे 1150 रुपए लूटे फिर सुरेश ने पास पड़ा पत्थर उठाकर अदाली के गुप्तांग में पटक दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। बाद में दोनों आपस में पैसे बांटकर बाइक से भाग निकले।