किसी भी व्यक्ति के लिए  धन कमाना जितना जरूरी है उतना ही धन बचाना भी आवश्यक है। लेकिन कई बार आप कमाते बहुत है तब भी धन बचाकर नहीं रख पाते हैं, आकर बजट बिगाड़ जाते हैं। वास्तु व‌िज्ञान के अनुसार धन संबंधी परेशान‌ियों का कारण अक्सर आपके घर में ही मौजूद होता है ज‌िसकी अक्सर हम अनदेखी करते हैं। अगर आप वास्तुशास्त्र में बताए गए कुछ सामान्य उपाय को अजमाएं तो आकस्मिक खर्चों में कमी आती है और बचत बढ़ने लगता है।


 


शयन कक्ष की ख‌िड़क‌ियों में क्र‌िस्टल लगवाएं। इससे टकराकर जो रोशनी घर में आती है वह सकारात्मक उर्जा लाती है जो आपको स्वस्‍थ्य और उर्जावान बनाती है। इससे आप अपनी उर्जा का इस्तेमाल सही द‌िशा में करके लाभ प्राप्त कर पाते हैं।


 


घर में दर्पण इस प्रकार लगाएं क‌ि उसका प्रत‌िब‌िंब त‌िजोरी और धन रखने के स्‍थन पर हो। यह व्यय को कम करने में सहायक माना जाता है। इससे संच‌ित धन बढ़ता है।


 



अपने घर की छत पर या चारदीवारी के अंदर एक बर्तन में पानी और अनाज रखें ज‌िससे पक्ष‌ियों को भोजन पानी म‌िले। वास्तु व‌िज्ञान के अनुसार पक्षी अपने साथ सकारात्मक उर्जा लाते हैं ‌ज‌िससे धन संबंधी बाधाएं और उलझनें दूर होती हैं।


 



आय में बार-बार बाधा आ रही है या मेहनत के अनुरूप धन लाभ नहीं म‌िल रहा है तो अपने शयन कक्ष या घर की चारदीवारी के अंदर बाएं कोने में भारी चीज या कोई ठोस चीज रखें।


 



घर में एक एक्‍वेर‌ियम रखें ज‌िसमें काले और सुनहरी रंग की मछली रखें। यह नकारात्मक उर्जा को दूर करके सकारात्मक उर्जा को बढ़ाने का काम करते हैं।


 



घर के मुख्य द्वार को हमेशा साफ रखें और उसके आस-पास की दीवारों पर रंग-रोगन करवाते रहें।


 



आपके घर के आस-पास नाला या बोर‌िंग है तो घर के उत्तर पूर्वी दीवार पर गणेश जी की तस्वीर लगाएं। इससे घर में मौजूद वास्तु दोष दूर होते है और धन वृद्ध‌ि में होती हैं।