बिलासपुर। सिविल लाइन के चंदेला नगर निवासी वृद्ध महिला ने बेटों के बीच संपत्ति का बंटवारा कर दिया। तखतपुर स्थित अपने हिस्से की जमीन को उसने मुस्लिम जमात को दान में दे दी। इसे हथियाने दो बेटों ने स्थगन आदेश ले लिया है।


कलेक्टोरेट में प्रकरण की सुनवाई के दौरान गुरुवार को दोनों ने मिलकर अपनी मां के साथ मारपीट कर दी और गला दबाकर हत्या करने की कोशिश की। रिपोर्ट पर पुलिस ने उनके खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।


सिविल लाइन क्षेत्र के चंदेला नगर निवासी अमीना बानो एबानी पति स्व.उस्मान एबानी (70) अपने बेटे साजिद एबानी के साथ रहती हैं। पति की मौत के बाद उन्होंने अपनी संपत्ति का बंटवारा कर दिया है, जिसमें तीन बेटों को उनके हिस्से की संपत्ति भी दे दी है।


तखतपुर में भी उनकी पुस्तैनी जमीन है, जहां दो बेटे रशीद एबानी व शाहिद एबानी रहते हैं। वहां की जमीन में भी वृद्घ महिला के हिस्से में 18 डिसमिल जमीन आई है, जिसे उन्होंने मुस्लिम जमात को दान में दे दी है। इसकी भनक लगने पर बेटे रशीद व शाहिद ने विरोध करते हुए आपत्ति कर दी है।


इस मामले में अतिरिक्त कलेक्टर ने बेटों के पक्ष में स्थगन आदेश भी दे दिया है। दरअसल, मां के द्वारा दान में दी गई लाखों रुपए कीमती जमीन को हासिल करने के लिए वे अड़ंगा लगा रहे हैं। गुरुवार को उनके इस प्रकरण की सुनवाई अतिरिक्त कलेक्टर केडी कुंजाम के कोर्ट में होनी थी।


महिला व उसके पक्ष का बयान लेकर कथन किया जाना था। वृद्घ महिला अपने बेटे साजिद के साथ गई थी। इस दौरान कलेक्टोरेट परिसर में ही दोनों बेटों ने गाली-गलौज शुरू कर दी और अपनी मां से अभद्रता करने लगे। फिर गला दबाकर जान से मारने की कोशिश करते हुए मारपीट भी कर दी।


बेटे शाहिद सहित अन्य ने बीच-बचाव किया। इस विवाद के बाद महिला मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने सिविल लाइन थाना पहुंच गई। उनकी रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 323, 506 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।