वाशिंगटन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के न्यूक्लियर बटन वाले बयान ने उत्तर कोरिया समेत पूरी दुनिया को सकते में डाल दिया था. इस बयान के साथ ही सोशल मीडिया पर एक नई जंग छिड़ गई थी. क्या डोनाल्ड ट्रंप की मानसिक स्थिति ठीक है या नहीं? इन सभी सवालों का जवाब अब ट्रंप के मेडिकल चेक-अप से मिलेगा. अगले सप्ताह व्हाइट हाउस में ट्रंप का फॉर्मल हेल्थ चेक-अप होगा.


71 वर्षीय डोनाल्ड ट्रंप का चेक-अप कोई और नहीं बल्कि वही डॉक्टर करेंगे जिन्होंने पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का चेक-अप किया था. चेक-अप के बाद रिपोर्ट का कुछ हिस्सा सार्वजनिक भी किया जा सकता है. हालांकि, ये जरूरी नहीं है कि उन्हें अपने दस्तावेज़ सार्वजनिक ही करने हों. अमेरिकी कानून के मुताबिक, उनके पास इन्हें प्राइवेट रखने का भी अधिकार है. ये चेक-अप करीब दो घंटे का होगा, कई टेस्ट होंगे.


कौन-से टेस्ट होंगे?


# ब्लड टेस्ट


# यूरिन टेस्ट


# हार्ट टेस्ट


# सोने की आदत का टेस्ट


# सेक्स लाइफ


कहां होगी जांच?


अमेरिकी राष्ट्रपति की जांच देश के सबसे बड़े मिलिट्री अस्पताल में होगी. वॉशिंगटन डीसी स्थित वॉल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर में अगले शुक्रवार ट्रंप की मेडिकल जांच हो सकती है. राष्ट्रपति बनने के बाद ट्रंप का ये पहला नॉर्मल चेक-अप होगा.


आपको बता दें कि अभी हाल ही में पत्रकार माइकल वोल्फ की एक किताब में कुछ खुलासे के बाद इस तरह के सवाल चर्चा में आए हैं. किताब में लिखा गया कि ट्रंप पिछले कुछ दिनों से अपने पुराने दोस्तों, पुरानी बातों को भी नहीं याद रख पा रहे हैं. किताब में कहा गया कि ट्रंप भाषण के दौरान बार-बार एक ही तरह की बातें दोहरा रहे हैं.


लगातार उठ रहे सवालों के बीच ट्रंप ने खुद भी इस मुद्दे को लेकर ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा कि पद संभालने के एक साल बाद अब एक नई थ्योरी सामने आई है. उन्होंने कहा कि मेरे पूरे जीवन में सिर्फ दो ही ताकतें रही हैं, एक तो मेंटर स्थिति और दूसरा स्मार्ट होना. उन्होंने लिखा कि इससे पहले हिलेरी क्लिंटन ने भी इसी तरह की चाल चलने की कोशिश की थी लेकिन नतीजा सभी के सामने है.

 ट्रंप ने ट्वीट में लिखा कि मैं एक सक्सेसफुल बिजनेसमैन रहा हूं, बाद में एक टॉप टीवी स्टार भी रहा और अब पहली ही बार में देश का राष्ट्रपति भी चुना गया. मुझे लगता है कि ये सिर्फ स्मार्ट नहीं जीनियस होने की निशानी है. और वो भी काफी मंझा हुआ जीनियस!


मेरा बटन ज्यादा बड़ा!


उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच वार-पलटवार अब खुली धमकियों तक पहुंच गया है. किम जोंग के न्यूक्लियर का बटन टेबल पर होने के बयान का डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर जवाब दिया था. ट्रंप ने एक कदम आगे बढ़कर कहा है कि उनके पास और बड़ा न्यूक्लियर बटन है.


डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा था कि नॉर्थ कोरिया के नेता को उसके भूख प्रभावित देश में कोई बताए कि मेरे पास भी न्यूक्लियर बटन है. ट्रंप ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'कोई किम जोंग उन को बताए कि मेरे पास भी न्यूक्लियर बटन है, जो उसके बटन से बहुत बड़ा और ताकतवर है. मेरा बटन काम करता है.'