मिशन 2019 को लेकर बीजेपी में हर स्तर पर तैयारियां तेज हो गई हैं. पार्टी की खास नजर उन वोटर्स पर हैं जो 2018 में बालिग होंगे और 2019 में पहली बार मतदान करेंगे. बीजेपी ने 17 से 35 साल के युवाओं को साधने के लिए खास तैयारी की है.


बीजेपी यूथ बिग्रेड के साथ संवाद बनाने के लिए युवा उद्घोष कार्यक्रम करेगी. इसकी शुरुआत राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी से 20 जनवरी को करेंगे. इस कार्यक्रम में अमित शाह खुद युवाओं से सीधे रूबरू होंगे. काशी के बाद यह कार्यक्रम पूरे देश में होगा.


वाराणसी में होने वाला यह कार्यक्रम अनोखा है. इसका आयोजन डीजल रेल इंजन कारखाना मैदान में होगा या महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ मैदान में, इस पर फैसला एक दो दिन पहले होगा.


कार्यक्रम के तहत संगठन के कार्यकर्ताओं के अलावा बनारस के सभी 1776 बूथ पर 10-10 युवाओं की तैनाती की जा रही है. पार्टी सूत्रों का कहना है कि बनारस से इस कार्यक्रम का आगाज होने के बाद संगठन ने ऐसी कवायद जोर-शोर से पूरे देश में करने का विचार किया है.आयोजन के दौरान युवाओं को संगठन साहित्य आदि भी वितरित होगा.



यूथ ब्रिगेड के तहत प्राथमिकता तो ऐसे 17 वर्ष के युवाओं पर है जो पहली बार 2019 में वोट देंगे. हर बूथ पर दस यूथ के लक्ष्य के लिए इस उम्र सीमा में थोड़ी गुंजाइश भी रखी गई है. जरूरत के हिसाब से 35 वर्ष तक के युवाओं को जोड़कर टीम तैयार की जाएगी.


कार्यक्रम में उन युवाओं को शामिल करने पर जोर है जो अभी तक बीजेपी के सीधे कार्यकर्ता नहीं थे. आमतौर पर सियासी कार्यक्रम अपने खर्चे को लेकर विवाद और बहस का प्लेटफार्म बन जाते हैं. ऐसे में इस कार्यक्रम के जरिए बीजेपी की ओर से नई पहल की गई है. कार्यक्रम में शामिल होने वाले सभी युवाओं का बाकायदा डिजिटल माध्यम से पंजीकरण कराया जा रहा है.


प्रत्येक युवा से 20 रुपए पंजीकरण शुल्क डिजिटल माध्यम भीम एप के जरिए लेकर हो रहा है. अभी तक करीब दस हजार युवाओं का पंजीकरण हो चुका है. लक्ष्य के मुताबिक  17  हजार से अधिक युवाओं की भागीदारी 20 जनवरी के आयोजन में होनी है.


भीम एप के जरिए रजिस्ट्रेशन कराने वाले एक युवा संतोष कनौजिया ने बताया कि वो इस कार्यक्रम को लेकर काफी उत्साहित हैं, उन्हें बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ सीधे संवाद करने का मौका मिल रहा है. उन्होंने कहा कि यह पहल अच्छी है. युवाओं की बात सुनी जा रही है.


हालांकि राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा युवाओं के साथ संवाद को बीजेपी ने एक सतत प्रक्रिया बताया है. बीजेपी महामंत्री विजय बहादुर पाठक ने कहा है कि युवाओं में देश की तकदीर बदलने की ताकत है और 2018 में जो युवा 18 साल के होंगे वे पहली बार वोट देने के अधिकारी होंगे. बीजेपी उन युवाओं से मुलाकात कर रही है ताकि देश के भविष्य को कैसे संवारा जाए इसमें मदद मिले. साथ ही उन्होंने 2019 की तैयारी को भी स्वीकारा और कहा कि पार्टी विश्राम नहीं करती है, बल्कि लगातार काम करती है.