बिलासपुर।बिलासपुर विश्वविद्यालय यूटीडी के स्टूडेंट अब ई-कंटेंट के जरिए पढ़ाई करेंगे। इसके अलावा विषय को करीब से समझने के लिए उससे जुड़ी शॉर्ट फिल्म दिखाकर समझाया जाएगा। ई कंटेंट तैयार करने का जिम्मा कम्प्यूटर साइंस विभाग को दिया गया है। एक्सपर्ट का मानना है कि इस योजना से शिक्षकों की कमी से जूझ रहे कॉलेजों को भी आने वाले दिनों में मदद मिलेगी।


बिलासपुर विश्वविद्यालय पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर सबसे पहले यूटीडी में लागू करने जा रहा है। सफल होने पर इसे ए ग्रेड व प्रमुख कॉलेजों में लागू किया जाएगा। तीसरे चरण में संभाग के सभी यूजी और पीजी कॉलेज सहित शिक्षा महाविद्यालय और विधि महाविद्यालय यह शुरू होगा। कंटेंट तैयार करने कम्प्यूटर साइंस विभाग में प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। एक्सपर्ट जितेंद्र कुमार गुप्ता का कहना है कि ई कंटेंट से स्टूडेंट को काफी फायदा होगा। कॉमर्स या होटल मैनेजमेंट का लेक्चर है तो फिल्म में इसे लेकर पूरा सीन होगा। इसके लिए कुछ प्रोफेशनल्स गु्रप की मदद लेंगे। जो इस तरह की फिल्म बना रहे हैं। कई जगह पहले से मौजूद भी है। दुनिया भर के नामी संस्थानों से संपर्क कर यहां लाने प्रयास होगा। खासकर ऐसे कॉलेज या यूनिवर्सिटी जहां अक्सर बाहर से गेस्ट लेक्चर आते हैं उनकी पूरी रिकार्डिंग की जाती है। जिसे बाकी स्टूडेंट भी देख व सुन सकेंगे। ई कंटेंट पर एक ऑनलाइन स्टोर भी तैयार किया जाएगा जिसे बिलासपुर विश्वविद्यालय के वेबसाइट से जोड़ा जाएगा। स्टूडेंट कहीं से भी लेक्चर का लाभ उठा सकेंगे।