गोरखपुर गोरखपुर महोत्सव का आज शनिवार को समापन समारोह है. दो दिन पहले 11 जनवरी को शुरू हुए इस महोत्सव का आयोजन शांतिपूर्ण रहा, लेकिन शुक्रवार की रात एक कार्यक्रम के दौरान पुलिस को यहां लाठीचार्ज करना पड़ा. बताया जा रहा है कि महोत्सव में मालिनी अवस्थी और रवि किशन के कार्यक्रम के दौरान बेकाबू भीड़ पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया.


कार्यक्रम के दौरान अभद्र टिप्पणी


गोरखपुर महोत्सव में भोजपुरी गायक व अभिनेता रवि किशन 'जिया हो बिहार के लाला' गाने की प्रस्तुति दे रहे थे और मंच पर भोजपुरी गायिका मालिनी अवस्थी भी मौजूद थीं. उसी दौरान एक दर्शक ने अपना मोबाइल कैमरा ऑन किया और खबर है कि तभी अभद्र टिप्पणी भी की गई और पुलिस को इस मामले में दखल देना पड़ा.


गोरखपुर महोत्सव का उद्देश्य


इस महोत्सव का उद्देश्य गोरखपुर और आसपास के जिलों में पर्यटन और संस्कृति धरोहर को बढ़ावा देना है. अधिकारियों के मुताबिक गोरखपुर महोत्सव हर साल होता था, लेकिन इस साल इसलिए भी खास है, क्योंकि गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का शहर है.


गोरखपुर महोत्सव पर विपक्ष का वार


उत्तर प्रदेश सरकार के सांस्कृतिक विभाग में इसके लिए 35 लाख रुपए का बजट रखा. विपक्ष ने योगी सरकार के इस महोत्सव पर सवाल उठाए हैं. उनका कहना है पहले तो भाजपा सैफई महोत्सव की बुराई करती थी और अब खुद भी उसी राह पर है.